Dainik Bhaskar Hindi

घटनाओं का दिन रहा मंगलवार, अलग-अलग घटनाओं में 5 की मौत

घटनाओं का दिन रहा मंगलवार, अलग-अलग घटनाओं में 5 की मौत

डिजिटल न्यूज, पांढुर्ना/छिंदवाड़ा। सोमवार को पांढुर्ना क्षेत्र के अंतर्गत 3 घंटों के दौरान 5 अलग-अलग घटनाओं में 5 लोगों की मौत हो गई। ये सारी मौतें 3 घंटे के अंतराल में हुईं।गौरतलब है कि, 3 लोगों की मौत अलग-अलग सड़क हादसों में हुईं। वहीं उनमें से 1 व्यक्ति ने पारिवारिक विवाद में जहर खाकर अपनी जान दे दी। जबकि एक व्यक्ति की मौत गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान बांध में डूबने से हो गई। पांढुर्ना पुलिस ने इन मौतों के मामलों में मर्ग कायम कर विवेचना शुरू की है।

पहली घटना शास्त्री वार्ड निवासी बाबू बाजीराव कचारे का उसकी पत्नी विवाद चल रहा था। जिसमें पत्नी ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी, जिसके बाद एक पुलिसकर्मी बाबू को समझाने उसके घर पहुंचे पर बाबू पहले ही थाने पहुंच गया। थाने पहुंचते ही वह बेहोश होकर जमीन पर गिर गया। जहां से उसे सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया, पर डॉक्टरों ने वहां जांच कर उसे मृत घोषित कर दिया। एक बार पहले भी बाबू ने जहर खाकर आत्महत्या की कोशिश की थी।

दूसरी घटना कारली पेंढोनी की है यहां रामेश्वर सालिकराम सिरसाम रिश्तेदारी में ग्राम उमरी गया हुआ था। वहां से लौटते समय जाटलापुर के पास नागबाबा मंदिर के पास रामेश्वर की बाईक फिसल गई। दुर्घटना का शिकार रामेश्वर वहीं घायल अवस्था में घटनास्थल पर ही काफी देरी तक बेसुध ही पड़ा रहा। करीब नौ बजे मिली सूचना के बाद 108 संजीवनी एंबुलेंस से रामेश्वर को पांढुर्ना अस्पताल लाया गया, यहां उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

तीसरी घटना तीगांव की है यहां आरीफ पिता मो.अली ने पांढुर्ना के घनपेठ में नया मकान बनाया था, जिसके बाद से वह यहीं रह रहा था। सोमवार की शाम को वह बस स्टैंड की ओर जाने के लिए निकला, इस दौरान पेट्रोल पंप के सामने उसकी बाईक अनियंत्रित होकर डिवाईडर से टकरा गई। हादसे में घायल आरीफ को तत्काल सरकारी अस्पताल पहुंचाया, पर अस्पताल पहुंचने के पहले रास्ते में ही उसने दम तोड़ दिया।

चौथी घटना  मोहगांव थानांतर्गत नंदेवानी की है जहां बलवंत गज्जू आतराम बाईक से अपने वाहन की किश्त जमा करने पांढुर्ना आया था। गांव वापस लौटते समय भोपाल रोड पर पारीजात होटल के सामने विपरित दिशा से आ रही बस नंबर MP 37 F115 ने बलवंत की बाईक को टक्कर मार दी। घटनास्थल पर ही बलवंत की दर्दनाक मौत हो गई। करीब सात बजे हुए इस हादसे के बाद बस चालक ने बस थाने लाकर खड़ी कर दी।

पांचवीं घटना सोमवार की शाम विसर्जन के दौरान ग्राम खैरीपेका निवासी शुभम गंगाराम मनोटे(18) की बांध में डूबने से मौत हो गई। रात करीब दस बजे उमरडोल तालाब में गणेश प्रतिमा के विसर्जन के दौरान शुभम फिसलकर तालाब की गहराई में चला गया। जहां उसने दम तोड़ दिया। शुभम के डूबने के तुरंत बाद ही गांव के तैराकों ने पानी में उतरकर शुभम को ढूंढने का प्रयास किया। जहां काफी मशक्कत के बाद उन्हें उसकी लाश मिली।

Similar News
पुलिस की वर्दी पर दाग : हेड कांस्टेबल बर्खास्त, इंस्पेक्टर और कांस्टेबल सस्पेंड

पुलिस की वर्दी पर दाग : हेड कांस्टेबल बर्खास्त, इंस्पेक्टर और कांस्टेबल सस्पेंड

दुरंतो हादसा : मंजर देख रोने लगी थी बहन, जानिए कैसे पहुंची शहर

दुरंतो हादसा : मंजर देख रोने लगी थी बहन, जानिए कैसे पहुंची शहर

2 अलग अलग हादसों में डूबने से बालकों की मौत, शव की तलाश जारी

2 अलग अलग हादसों में डूबने से बालकों की मौत, शव की तलाश जारी

छिंदवाड़ा : कंपनियों ने नहीं किया काम, अधिकारियों ने कर दिया 96 करोड़ का भुगतान

छिंदवाड़ा : कंपनियों ने नहीं किया काम, अधिकारियों ने कर दिया 96 करोड़ का भुगतान

छिन्दा में ग्रामीणों ने किया चक्काजाम, चार घंटे बंद रहा कोल परिवहन

छिन्दा में ग्रामीणों ने किया चक्काजाम, चार घंटे बंद रहा कोल परिवहन

सागौन के पेड़ों पर कीटों का हमला, बरसात में ही बन गए पतझड़

सागौन के पेड़ों पर कीटों का हमला, बरसात में ही बन गए पतझड़

FOLLOW US ON