Dainik Bhaskar Hindi

दर्दनाक हादसे : पहले यूपी में यमुना और अब बिहार में गंगा में डूबी नाव

दर्दनाक हादसे : पहले यूपी में यमुना और अब बिहार में गंगा में डूबी नाव

डिजिटल डेस्क, बागपत। पहले यूपी के बागपत के काठा गांव के पास यमुना नदी में एक नाव पलटने से लगभग 21 लोगों की मौत हो गई। वहीं दूसरी तरफ बिहार में नदी में डूबने से 6 लोगों के मरने की खबर है। मरने वालों में 5 बच्चे बताए जा रहे हैं। ये दोनों ही हादसे गुरुवार को ही हुए हैं। 

बागपत में यमुना में डूबी नाव

उत्तर प्रदेश के बागपत के काठा गांव के पास यमुना नदी में एक नाव पलटने से लगभग 21 लोगों की मौत हो गई है जबकि दर्जनों लोग अभी भी लापता हैं। गोताखोर उन लापता लोगों की तलाश में जुटे हुए हैं। बताया जा रहा है कि नाव में 50 से ज्यादा यात्री सवार थे। इस घटना के बाद से गांव काठा में कोहराम मचा हुआ है। नराज लोगों ने दिल्ली सहारनपुर हाइवे को जाम कर दिया है। 

गौरतलब है कि गुरुवार की सुबह तकरीबन 6:30 बजे 60 के करीब महिला और पुरुष यमुना पार करके हरियाणा में खेतों पर जाने के लिए नाव में सवार हुए थे। नाव थोड़ी दूर चलने के बाद ही अचानक डगमगाकर यमुना में पलट गई। बताया जाता है कि नाव में सवार लगभग 20 लोग तो तैरकर बाहर निकल आए। जबकि बाकि यमुना नदी में ही समा गए। घटना की सूचना पाकर ग्रामीण घटना स्थल पर पहुंचे और लोगों की खोजबीन शुरू कर दी गई। अभी तक 9 शवों को निकाला जा चुका है जबकि कई दर्जन लोग अभी भी लापता हैं जिनकी यमुना में तलाश की जा रही है। 

जिले में इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी प्रशासनिक अधिकारियों की लेटलतीफी बरकरार रही। हादसे के कई घंटे बाद मौके पर पहुंचे डीएम और प्रभारी एसपी को लोगों ने घेर लिया। लोगों का कहना था कि घटना के करीब तीन घंटे बाद अधिकारी मौके पर पहुंचे जबकि जिला मुख्यालय बागपत से काठा गांव की दूरी मुश्किल से 6 किमी है। प्रशासन द्वारा राहत व बचाव कार्य की कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किए जाने से भी लोग काफी नाराज हैं।

वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने बागपत में हुई नाव दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है और हादसे की जांच के निर्देश दिए हैं। साथ ही सीएम ने मृतकों के लिए 2-2 लाख मुआवजे का ऐलान भी किया। उन्होंने जिलाधिकारी को मृतकों के परिजनों को हर संभव राहत दिलाने के निर्देश दिए और मुआवजे का ऐलान किया।

बिहार में गंगा मे समाए दादा और पांच पोते-पोतियां

बिहार में नदी में डूबने से 6 लोगों के मारे जाने की खबर है। मरने वालों में 5 बच्चे बताए जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पटना के मरांची गांव में सुबह एक परिवार गंगा में स्नान के लिए गया था जब ये हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि अब तक दो लोगों का शव ढूंढ लिया गया है। वहीं चार अन्य की तलाश जारी है। मरने वालों के नाम पवन सिंह (65 वर्ष), काजल (13), मृदुला (11), मौला कुमारी, निक्की (10) और अनमोल शर्मा (12) बताए जा रहे हैं।

गौरतलब है कि पवन के घर से महज 200 मीटर की दूरी पर गंगा नदी का घाट है जहां ये हादसा हुआ। ये सभी गंगा में नहाने गए थे। इस दौरान मृदुला गहरे पानी में चली गई और डूबने लगी। उसे बचाने के लिए उसके दादा पवन भी नदी के गहरे हिस्से की ओर चले गए लेकिन वो भी डूब गए। एक बच्ची मदद मांगने के लिए दौड़ती हुई घर गई। लेकिन जब तक वो लोग आए तब तक 6 लोग डूब चुके थे। शवों को ढूंढने के लिए स्थानीय गोताखोर लाए गए हैं। नदी का बहाव ज्यादा नहीं है, जिससे माना जा रहा है कि दादा पवन और पोती मृदुला के शव मिलने के बाद बाकी के शव भी जल्द ही मिल जाएंगे।
 

Similar News
दो सगे भाइयों के नदी में डूबने से गांव में पसरा मातम 

दो सगे भाइयों के नदी में डूबने से गांव में पसरा मातम 

बिहार में मानवता शर्मसार, बाढ़ में मरने वालों की लाशों को पानी में फिंकवा रहा प्रशासन

बिहार में मानवता शर्मसार, बाढ़ में मरने वालों की लाशों को पानी में फिंकवा रहा प्रशासन

13 घंटे तक बाढ़ के पानी में तैरती रही वृद्ध महिला, मछुआरों ने बचाया

13 घंटे तक बाढ़ के पानी में तैरती रही वृद्ध महिला, मछुआरों ने बचाया

नागपुर की वेना नदी में डूबने से 2 की मौत, 6 लापता

नागपुर की वेना नदी में डूबने से 2 की मौत, 6 लापता

लीबियाई तट के पास नाव पलटी, 35 लोगों के डूबने की आशंका

लीबियाई तट के पास नाव पलटी, 35 लोगों के डूबने की आशंका

LIFE STYLE

FOLLOW US ON