Dainik Bhaskar Hindi

घायल जवान ने कहा : पहले से ताक में थे नक्सली, 2 शहीद 5 गंभीर

घायल जवान ने कहा : पहले से ताक में थे नक्सली, 2 शहीद 5 गंभीर

टीम डिजिटल, सुकमा/रायपुर। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों की मुठभेड़ में 2 जवानों की मौत हो गई, वहीं 5 जवान गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायलों को मुठभेड़ स्थल से निकाल लिया गया और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया है। राहत कार्य के लिए हेलिकॉप्टर को भी रवाना किया गया है। मुठभेड़ चिंतागुफा इलाके के टुंडामरका के जंगलों में हुई है। एसटीएफ के जवान नक्सलियों के खिलाफ अभियान के तहत गश्त पर निकले थे, तभी दोनों के बीच मुठभेड़ हो गई। मिल रही जानकारी के अनुसार, मुठभेड़ में 10-15 नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर है.

आईजी विवेकानंद घटना में शहीद दो जवानों में से एक कोंटा तो दूसरा श्यामसेट्‌टी का रहने वाला है। इलाके में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ रात करीब 11 बजे खत्म हुई। इसके बाद बैकअप फोर्स भी रवाना किया गया था। दोपहर 1:30 बजे वायुसेना के हेलिकॉप्टर द्वारा तोंडामरका के घने जंगलों से घायल जवानों रायपुर के रामकृष्ण केयर अस्पताल पहुंचाया गया। वहीं घायल जवान ने कहा कि नक्सलियों को हमारे आने की खबर पहले से ही थी। वे पहले से ही तैयारी करके बैठे थे। 

वहीं हमले के बाद फोर्स ने बदली हुई रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। शनिवार को 8.45 बजे फोर्स ने ऑपरेशन प्रहार लॉन्च कर दिया। ऐसा पहली बार है जब फोर्स ने मानसून सीजन में नक्सल ऑपरेशन लॉन्च किया है। मुठभेड़ तोंडामरका और बड़े-केड़वाल के जंगलों में हुई। करीब 20 नक्सली ढेर हुए हैं। मुठभेड़ के दौरान सुकमा के तोंडामरका में पांच जवान घायल हो गए, वहीं दूरमा के पास दो जवान शहीद भी हुए हैं। घने जंगल में फोर्स के फंसे होने के कारण शहीदों के नाम का खुलासा देर नहीं हो पाया।  

Most Popular

FOLLOW US ON