Dainik Bhaskar Hindi

पुलिस को बड़ी सफलता, गिरफ्त में आया डकैत बबुली कोल गिरोह का सदस्य

पुलिस को बड़ी सफलता, गिरफ्त में आया डकैत बबुली कोल गिरोह का सदस्य

डिजिटल डेस्क,सतना। ऑपरेशन बबुली कोल में जुटी यूपी पुलिस को 12 घंटों के अंदर ही दूसरी सफलता मिल गई है। पुलिस ने दो बार डकैतों से मुठभेड़ कर SI की हत्या करने वाले इनामी डकैत को मार गिराया तो एक अन्य बदमाश को असलहा समेत गिरफ्तार कर लिया था। जबकि कुछ गैंग मेंबर जान बचाकर भाग निकले। 

गौरतलब है कि रविवार रात मिली सफलता के बाद पुलिस टीम दोगुने जोश से जंगल में सर्चिंग कर रही थी इस दौरान सोमवार तड़के बेधक जंगल के पास फिर से डकैत बबुली कोल गैंग से आमना सामना हो गया। करीब आधे घंटे चली मुठभेड़ के बाद एक डकैत को दबोच लिया जबकि दूसरा भाग गया। SP प्रताप गोपेंद्र ने बताया कि पकड़ा गया डकैत बहिलपुरवा थाना क्षेत्र के खांच गांव का रहने वाला है। उसके पास से 12 बोर की बंदूक व 7 जिंदा कारतूस के अलावा खाली खोखे बरामद हुए हैं। यह बबुली कोल गैंग का डकैत है। वहीं गैंग का रजोला चौधरी नामक डाकू भागने में सफल रहा। पूछताछ में उसने बताया कि जंगल में मुठभेड़ के दौरान शारदा व रजोला चौधरी के साथ मिलकर वो घायल डकैत बबुली कोल व लवलेश को वहां से निकालकर सुरक्षित जगह में पहुंचाने के साथ ही इलाज में मदद कर रहे थे। 


SI की मौत का लिया बदला
गौरतलब है कि रविवार रात करीब 9 बजे मारकुंडी थाना क्षेत्र के मड़वरिया जंगल में सवा 5 लाख के इनामी बबुली कोल के साथियों समेत मौजूद होने की खबर मिली थी। इसके बाद मौके पर पुलिस ने डकैतों को घेराबंदी के लिए ललकारा तो वे फायरिंग करने लगे। जवाब में पुलिस ने भी ताबड़तोड़ गोलियां चलाई जिसमें 12 हजार का इनामी बदमाश शारदा कोल मारा गया। जबकि गैंग लीडर समेत अन्य डकैत जान बचाकर पीछे हट गए। बाद में सघन सर्चिंग कर उसकी लाश को कब्जे में लेने के साथ ही मौके से टूटी हुई रॉयफल भारी मात्रा में जिंदा व खाली कारतूस बरामद किया गया। 

मारे गए डकैत के खिलाफ कुल 10 अपराध दर्ज थे। इसमें 24 अगस्त को औदरपुरवा के जंगल में मुठभेड़ के दौरान SI जेपी सिंह की गोली मारकर हत्या करने का मामला भी शामिल है। उस पर मारकुंडी में 6 मुकदमें दर्ज थे तो मानिकपुर में 3 व कर्बी कोतवाली के एक प्रकरण दर्ज था। दस्यु बबुली कोल गैंग के शार्प शूटर को ढेर करने के बाद पुलिस ने बचे गैंग की तलाश में कांबिंग तेज कर दी। मुठभेड़ की खबर लगते ही सोमवार को पुलिस टीम का हौसला बढ़ाने एडीजी बीएन सावत कबीं पहुंच गए। जहां एसपी समेत पूरी टीम से मुलाकात कर अंतिम परिणाम मिलने तक सर्चिंग जारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने डीआईजी बांदा ज्ञानेश्वर तिवारी व एसपी प्रताप गोपेन्द्र के साथ एडी अभियान पर विस्तार से चर्चा की। 

2 साल में पुलिस को बड़ी सफलता
चित्रकूट पाठा क्षेत्र के मड़वरिया जंगल में रविवार की रात मुठभेड़ में 12 हजार के इनामी डकैत शारदा कोल के मारे जाने के बाद एमपी और यूपी पुलिस के हाथों दो साल के अंदर मरने वाले डाकुओं की संख्या बढ़कर 4 हो गई है। सोमवार को डाकू किशोरा के पकड़े जाने के बाद अब तक 39 डकैत दोनों राज्यों की पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं। गौरतलब है कि सरैंया के जंगल में डाकू जयंत यादव मारा गया था। भरतकूप क्षेत्र में ग्रामीणों ने डाकू राजा ठाकुर को मार गिराया था। जिले के नयागांव थाना अंतर्गत पोखरवार जंगल में हुई मुठभेड़ में सरगना ललित पटेल मारा गया था। वहीं रविवार को यूपी पुलिस ने शारदा कोल को मार गिराया। सोमवार को हुई मुठभेड़ में बबुली कोल गैंग के डाकू किशोरा को पुलिस ने बंदूक समेत पकड़ा है।
 

Similar News
पुलिस को बड़ी सफलता, गिरफ्त में आया डकैत बबुली कोल गिरोह का सदस्य

पुलिस को बड़ी सफलता, गिरफ्त में आया डकैत बबुली कोल गिरोह का सदस्य

पुलिस को बड़ी सफलता, 3 इनामी डकैत गिरफ्तार

पुलिस को बड़ी सफलता, 3 इनामी डकैत गिरफ्तार

पुलिस को बड़ी सफलता, डकैत ललित का साथी गिरफ्तार

पुलिस को बड़ी सफलता, डकैत ललित का साथी गिरफ्तार

डकैत गोप्पा गैंग के दो बदमाश गिरफ्तार

डकैत गोप्पा गैंग के दो बदमाश गिरफ्तार

डकैत ललित का मददगार गिरफ्तार, पुलिस पूछताछ में जुटी

डकैत ललित का मददगार गिरफ्तार, पुलिस पूछताछ में जुटी

FOLLOW US ON