Dainik Bhaskar Hindi

पाक आतंकियों के लिए जन्नत : ट्रंप

पाक आतंकियों के लिए जन्नत : ट्रंप

डिजिटल डेस्क, न्यूयॉर्क। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर पाकिस्तान को चेताते हुए उससे आतंकवाद के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने को कहा है। इसके साथ ही ट्रंप ने भारत से भी अफगानिस्तान नीति पर सहयोग की मांग की है। उन्होंने कहा कि भारत ने अमेरिका के साथ मिलकर बिजनेस के जरिए अरबों डॉलर कमाए हैं और अब हम चाहते हैं कि भारत अफगानिस्तान में हमारी मदद करे। ट्रंप के इस बयान के बाद से भारत-अमेरिका की दोस्ती को और मजबूत माना जा रहा है, इससे पाकिस्तान और चीन की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। 

आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदम उठाए पाकिस्तान

मंगलवार को अमेरिका की नई अफगान नीति की घोषणा करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को आतंकवाद के खिलाफ कड़े कदम उठाने को कहा है। ट्रंप ने कहा कि एक ओर पाकिस्तान की अवाम आतंकवाद का सामना कर रही है तो वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान आतंकवादियों के लिए सबसे सुरक्षित देश है, वो आतंकियों को अपने यहां पनाह दे रहा है। 

भारत से सहयोग करने को कहा

इसके आगे अमेरिकी राष्ट्रपति ने भारत से सहयोग की बात भी कही। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हम भारत के साथ अच्छे कूटनीतिक संबंध बनाने के साथ-साथ अफगानिस्तान की ज्यादा से ज्यादा मदद करेंगे। उन्होंने कहा कि भारत ने अमेरिका के साथ बिजनेस करके अरबों डॉलर कमाए हैं और अब हम चाहते हैं कि भारत अफगानिस्तान में हमारी मदद करे। 

हम पहले की तरह गलती नहीं करेंगे: ट्रंप

ट्रंप ने अफगानिस्तान नीति पर आगे कहा कि अमेरिका के पुराने नेताओं ने इराक को लेकर जो गलती की थी, उसे हम नहीं दोहराएंगे। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान से जल्दी निकल जाने से वहां एक वैक्यूम बनेगा, जिसे ISIS और अल-कायदा जैसे आतंकवादी संगठन भरेंगे। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने पहले यही गलती की थी, जिसका नतीजा था 11 सितंबर। 

अमेरिका के साथ आने से चीन-पाकिस्तान घबराए

अमेरिका पहले भी कई बार आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान को चेता चुका है। अमेरिका साफ कर चुका है कि वो आतंकवाद को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएगा। हाल ही में अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिद्दीन और उसके चीफ सैयद सलाहुद्दीन पर बैन लगाया है, जिससे पाकिस्तान को झटका तो लगा है लेकिन उसको इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा। पाकिस्तान में आज भी दुनिया के मोस्ट वांटेड आतंकी खुलेआम घूम रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ इससे चीन भी घबरा गया है। भारत कई बार मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट करने की मांग कर चुका है लेकिन चीन हर बार इसमें वीटो लगाकर अड़ंगा लगा देता है। अमेरिका की तरफ से सैयद सलाहुद्दीन को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित करने के बाद चीन मसूद अजहर पर क्या कदम उठाता है, ये देखने वाली बात होगी। भारत हमेशा से दुनिया को ये बताने में सफल रहा है कि उसका पड़ोसी देश पाकिस्तान आतंकवाद को पनाह देता है और आतंकवाद से सबसे ज्यादा नुकसान भारत को ही हो रहा है। इस समय चीन भी भारत को कई बार डोकलाम विवाद को लेकर युद्ध की धमकी दे चुका है, लेकिन अमेरिका-भारत के बीच बेहतर कूटनीतिक संबंध बढ़ने से चीन की बौखलाहट तेज हो गई है। 
 

Similar News
अमेरिका की पाक को हिदायत- अपनी जमीन का उपयोग आतंकी गतिविधियों में न होने दें

अमेरिका की पाक को हिदायत- अपनी जमीन का उपयोग आतंकी गतिविधियों में न होने दें

अमेरिका ने दो IS आतंकियों को 'ग्लोबल टेररिस्ट' घोषित किया

अमेरिका ने दो IS आतंकियों को 'ग्लोबल टेररिस्ट' घोषित किया

बेनकाब हुआ PAK, अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन घोषित हुआ 'हिज्बुल मुजाहिदीन'

बेनकाब हुआ PAK, अंतरराष्ट्रीय आतंकी संगठन घोषित हुआ 'हिज्बुल मुजाहिदीन'

अमेरिका को चीन की नसीहत, कहा- 'उत्तर कोरिया पर भड़काऊ बयान न दें ट्रंप '

अमेरिका को चीन की नसीहत, कहा- 'उत्तर कोरिया पर भड़काऊ बयान न दें ट्रंप '

ट्रंप की उत्तर कोरिया को दो टूक, धमकियां मत दो विध्वंस कर देंगे

ट्रंप की उत्तर कोरिया को दो टूक, धमकियां मत दो विध्वंस कर देंगे

मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज ने बनाई पार्टी, अब पकिस्तान में आतंकी बनाएंगे सरकार !

मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज ने बनाई पार्टी, अब पकिस्तान में आतंकी बनाएंगे सरकार !

डोनाल्ड ट्रंप को भारत से महिलाआें ने भेजी राखी

डोनाल्ड ट्रंप को भारत से महिलाआें ने भेजी राखी

LIFE STYLE

FOLLOW US ON