Dainik Bhaskar Hindi

नीतीश की कैबिनेट में अकेले, 'जय श्री राम' बोलने पर मंत्री को फतवा जारी

नीतीश की कैबिनेट में अकेले, 'जय श्री राम' बोलने पर मंत्री को फतवा जारी

डिजिटल डेस्क,पटना।  जेडीयू नेता खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद के खिलाफ बिहार विधानसभा परिसर में 'जय श्रीराम' के नारे लगाने के बाद  इमारत-ए-शरिया की ओर से फतवा जारी कर दिया गया है। मुफ्ती सुहैल अहमद कासमी ने फतवा जारी करते हुए उन्हें इस्लाम से खारिज और विश्वास नहीं करने वाला करार दिया है।

फतवा जारी होने के बाद मंत्री खुर्शीद ने कहा, 'मैं इमारत-ए-शरिया को बहुत मानता हूं। उन्हें फतवा जारी करने से पहले मुझसे मेरा इरादा पूछना चाहिए था। मुझे क्यों डरना चाहिए? इस्लाम का कहना है कि किसी से नफरत नहीं करो, प्रेम बांटो।' इसी के साथ ही खुर्शीद ने कहा कि बिहार के लोगाें के विकास और समरसता के लिए मैं 'जय श्री राम' कहूंगा, मुझे यह कहने में कोई शर्म नहीं है। मैं अपनी इस बात से कभी भी पीछे नहीं हटूंगा।'

खु्र्शीद एक मात्र मुस्लिम नेता हैं नीतीश की सरकार में

नीतीश की नई कैबिनेट में खुर्शीद को अल्पसंख्यक कल्याण और गन्ना उद्योग विभाग की जिम्मेदारी मिली है। खुर्शीद ने विधानसभा परिसर में 'जय श्रीराम' के नारे लगाए थे, और कहा था, 'अगर जय श्रीराम के नारा सार्वजानिक लगाने से बिहार की 10 करोड़ जनता का फायदा होता है, तो मैं सुबह-शाम जय श्री राम कहूंगा, हमारे इस्लाम में नफरत की कोई जगह नहीं है, इस्लाम की नींव ही मोहब्बत और प्रेम पर रखी हुई है। मैं रहीम के साथ राम को भी मानता हूं।'  खुर्शीदअहमद के मुंह से 'जय श्रीराम' का नारा सुनकर बीजेपी समर्थक काफी खुश नजर आए।

LIFE STYLE

FOLLOW US ON