•  16°C  Mist
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » FIR against union minister hegde for making comments on karnataka cm

केंद्रीय मंत्री हेगड़े को बयानबाजी करना पड़ा महंगा, दर्ज हुई FIR

BhaskarHindi.com | Last Modified - December 07th, 2017 12:52 IST

केंद्रीय मंत्री हेगड़े को बयानबाजी करना पड़ा महंगा, दर्ज हुई FIR

डिजिटल न्यूज डेस्क, नई दिल्ली। कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया के खिलाफ आपत्तिजनक बयानबाजी करना केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े को महंगा पड़ गया। हेगड़े के खिलाफ कर्नाटक में एफआईआर दर्ज की गई है। कोर्ट के निर्देश के बाद ये कार्रवाई की कई है।

अनंत कुमार के खिलाफ दो धाराएं लगाई गई है। भारतीय दंड संहिता की धारा 153 और 504। बता दें कि आपत्तिजनक भाषा का उपयोग करने पर ये धाराएं लगाई जाती है।

केंद्रीय मंत्री हेगड़े ने भाजपा की परिवर्तन रैली में सिद्धारमैया को कथित तौर पर कहा था, 'सिद्धारमैया को सिर्फ अपने वोट बैंक की चिंता सताती है। वोटों की खातिर तो वह जूतें तक चाट सकते हैं।' कांग्रेस ने हेगड़े के इस बयान पर आपत्ति जाहिर की थी और मैसूर सिटी कोर्ट में मामला दर्ज कराने की गुहार लगाई थी। कोर्ट के निर्देशों के बाद थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। अनंत कुमार ने ये बयान बेलागवी इलाके में दिया था, इसलिए अब इसे वहीं की पुलिस के पास ट्रांसफर किया जा रहा है।

ये भी कहा था मंत्री हेगड़े ने

18 नवंबर को आयोजित रैली में कर्नाटक में टीपू सुल्तान की जयंती मनाए जाने पर मोदी सरकार में मंत्री हेगड़े ने कहा कि वह दिन दूर नहीं जब वह (कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया) कसाब की जयंती मनाने लगें। 2008 मुंबई आतंकी हमले के दोषी आमिर अजमल कसाब को नवंबर 2012 में फांसी की सजा दी गई थी। हेगड़े ने कहा, 'सिद्धारमैया किट्टूर रानी चिन्नम्मा फेस्टिवल नहीं मनाते हैं, लेकिन वह टीपू सुल्तान की जयंती मनाने में व्यस्त हैं।'

कर्नाटक अपराधियों के लिए जन्नत

अनंत हेगड़े टीपू सुल्तान तक ही नहीं रुके, उन्होंने आगे ये भी कहा था कि कर्नाटक अपराधियों के लिए सुरक्षित जन्नत बन गया है। हेगड़े ने कहा कि बंगलुरू में 9 लाख बांग्लादेशी हैं। हेगड़े ने कहा कि आप अपने पैरों के नीचे चैक कर लीजिए, वहां बम भी लगा हो सकता है।

यूथ कांग्रेस ने किया था प्रदर्शन

अनंत कुमार हेगड़े के इस बयान के बाद कर्नाटक युवा कांग्रेस इकाई ने जमकर प्रदर्शन किया था। शहर के आनंदराव चौराहे पर महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास ये प्रदर्शन किया गया था। कांग्रेस नेता मनोहर ने अनंत कुमार हेगड़े के इस बयान को कर्नाटक की जनता का अपमान बताते हुए जनता से माफी मांगने और कार्रवाई की मांग की थी। साथ ही उन्हें गैर जिम्मेदार भी बताया गया था।


 

 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON