Dainik Bhaskar Hindi

फर्जी 'आधार' बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, यूपी STF ने 10 लोगों को किया गिरफ्तार

फर्जी 'आधार' बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, यूपी STF ने 10 लोगों को किया गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क,लखनऊ। यूपी के कानपुर में फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनाने वाले एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। खास बात यह है कि देशभर में 3 लाख से ज्यादा आधार कार्ड इसी तरह के फर्जीवाड़े से तैयार किए गए हैं। यूपी STF की पड़ताल में सामने आया है कि एमपी की एक एनरोलमेंट कंपनी के लखनऊ में तैनात अधिकारी ने ही STF द्वारा पकड़े गए जालसाजों को सिस्टम हैक करने वाली सॉफ्टवेयर ऐप्लिकेशन सौंपी। इस ऐप्लिकेशन को अन्य ऑपरेटर्स को 5-5 हजार रुपये में बेचा जा रहा है। STF इस अधिकारी की तलाश में इसके लखनऊ और एमपी स्थित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है।

STF के मुताबिक जून से पहले कंपनी के लोगों ने ज्यादा से ज्यादा आधार बनाकर कमिशन के लिए अवैध लोगों को आधार बनाने वाली मशीनें और सिस्टम में घुसने के लिए सॉफ्टवेयर दे दिया। जून से पहले ये लोग टैम्पर्ड क्लाइंट ऐप्लिकेशन के जरिए अवैध तरीके से आधार बना रहे थे। UIDAI को जब इस फर्जीवाड़े का पता चला तो उन्होंने नया सॉफ्टवेयर तैयार किया। लेकिन आधार बनाने का काम संभालने वाली भोपाल स्थित कंपनी के लखनऊ में तैनात अधिकारी ने इस सॉफ्टवेयर का भी तोड़ तैयार करके अवैध ऑपरेटर्स को दे दिया। जिसके बाद फर्जीवाड़े का काम फिर शुरू कर दिया गया।

कानपुर का है मास्टरमाइंड सौरभ

पुलिस को पता चला कि इस गिरोह का मास्टरमाइंड सौरभ सिंह कानपुर का रहने वाला है। इसके बाद पुलिस ने कानपुर के बर्रा में दबिश देकर सौरभ सिंह सहित 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि वे आधार कार्ड बनाने के लिये निधार्रित मानकों को बाईपास करते हुए बायोमेट्रिक डिवाइस के माध्यम से अधिकृत आपरेटर्स के फिंगर प्रिन्ट ले लेते हैं। इसके बाद उसका बटर पेपर पर लेजर प्रिंटर से प्रिंट आउट निकालते हैं।

FIR में 22 अवैध आधार कार्ड का जिक्र
UIDAI के उपनिदेशक रूपेश शर्मा द्वारा साइबर क्राइम थाने में दर्ज कराई गई FIR में 22 आधार कार्ड का जिक्र किया है जिन्हें सिस्टम को बायपास करके बनवाया गया। लेकिन असल में इनकी संख्या कहीं ज्यादा है। 

UIDAI के उप महानिदेशक आर एच सिंह ने बताया कि कुछ लोगों ने सिस्टम को बायपास करके आधार बनवाने की कोशिश की है लेकिन वे सफल नहीं हुए हैं। UIDAI का पूरा डाटा सुरक्षित है। वहीं इस मामले में STF आईजी अमिताभ यश का कहना है कि बड़े पैमाने पर देश के कई राज्यों में अवैध तरीके से आधार बनवाए जाने की बात सामने आई है। इसमें UIDAI ने बड़ी संख्या में ऐसे आधार कार्ड को डिएक्टिवेट किया है। गिरफ्तार 10 लोगों में एनरोलमेंट कंपनियों से जुड़े 5 ऑपरेटर भी शामिल हैं।
 

Similar News
बिना आधार सब बेकार : करेक्शन करवाने कलेक्ट्रेट में उमड़ी लोगों की भीड़

बिना आधार सब बेकार : करेक्शन करवाने कलेक्ट्रेट में उमड़ी लोगों की भीड़

यहां पर सोनोग्राफी कराने के लिए 'आधार कार्ड' लाना जरूरी!

यहां पर सोनोग्राफी कराने के लिए 'आधार कार्ड' लाना जरूरी!

सरकारी योजनाओं में आधार कार्ड जरूरी होगा या नहीं, SC कोर्ट करेगा फैसला

सरकारी योजनाओं में आधार कार्ड जरूरी होगा या नहीं, SC कोर्ट करेगा फैसला

30 जून तक आधार नहीं तो राशन नहीं

30 जून तक आधार नहीं तो राशन नहीं

एक SMS से आधार को ऐसे करे पैन से लिंक

एक SMS से आधार को ऐसे करे पैन से लिंक

LIFE STYLE

FOLLOW US ON