•  20.5°C  Cloudy
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » Gurmeet Ram Rahim did not eat food of jail during first night

राम रहीम को पसंद नहीं आया जेल का खाना, नहीं किया डिनर

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 29th, 2017 21:02 IST

राम रहीम को पसंद नहीं आया जेल का खाना, नहीं किया डिनर

डिजिटल डेस्क, रोहतास। साध्वी यौन शोषण मामले में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम को जेल का खाना रास नहीं आ रहा है। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम की पहचान जेल में कैदी नंबर 8647 के रूप में है। उसे जेल का खाना रास नहीं आ रहा इसलिए राम रहीम ने पहली रात को डिनर ही नहीं किया। रात में उसे खाने में चार रोटियां मिलीं, लेकिन उसने एक निवाला खाकर खाना छोड़ दिया।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक बाबा को डिनर दिया गया, जिसे वह काफी देर तक देखता रहा। इसके बाद भूख नहीं है कहकर उसने खाना लौटा दिया। पुलिस अधिकारियों के बार बार कहने के बाद बाबा ने मात्र एक निवाला खाया और बाकी खाना छोड़ दिया। बाबा को रातभर नींद भी नहीं आई और वह चहल-कदमी करता रहा। वह जेल के अंदर ही घूमता रहा और बार-बार बीमार होने की शिकायत भी करता रहा। इससे पहले राम रहीम ने कोर्ट में जेल के खाने की शिकायत भी की थी। अपने डेरे में लजीज व्यंजन खाने वाले राम रहीम ने विशेष सीबीआई जज से अच्छा खाना देने की मांग की। बाबा ने जेल के खाने की शिकायत करते हुए कहा कि यहां का खाना बेहद खराब है जिसे वो नहीं खा पा रहा है।

बाबा से पूछा कौन सा काम करोगे जेल में

जेल के अंदर राम रहीम को एक फॉर्म दिया गया, इसमें उससे पूछा गया कि वह वहां कौन सा काम करेगा। इसके लिए उसे माली का काम और फैक्ट्री के अंदर किसी दूसरे काम में एक काम चुनने के लिए कहा गया है।

मेडिकल जांच में तंदुरुस्त निकला बाबा

बचने के लिए बाबा ने हर पैंतरा आज़माया। बीमारी तक का बहाना बनाया, लेकिन मेडिकल जांच में उसे तंदुरुस्त पाया गया। राम रहीम को अन्य कैदियों से अलग रखा गया है। ऐसा सुरक्षा कारणों से किया गया है। उसका जेल सेल प्रशासनिक दफ्तर के सबसे नज़दीक रखा गया है। जेल प्रशासन पर बाबा को वीआईपी सुविधा देने का आरोप भी लगा था जिसे उन्होंने सिरे से खारिज भी किया।

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

Similar News
बाबा को 20 साल की जेल, पीड़िताओं को 14-14 लाख देने के आदेश

बाबा को 20 साल की जेल, पीड़िताओं को 14-14 लाख देने के आदेश

राम रहीम केस : पत्रकार के बेटे ने कहा- पिता का बलिदान बेकार नहीं गया

राम रहीम केस : पत्रकार के बेटे ने कहा- पिता का बलिदान बेकार नहीं गया

बाबा ने दंगा भड़काने के लिए बनाई थी 'ए टीम'

बाबा ने दंगा भड़काने के लिए बनाई थी 'ए टीम'

जेल में गए बाबा, अब कौन संभालेगा उनकी अरबों की विरासत ?

जेल में गए बाबा, अब कौन संभालेगा उनकी अरबों की विरासत ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON