Dainik Bhaskar Hindi

यहां हर युवा है एक सोल्जर, जानिए कितना ताकतवर है हमारा दोस्त इजरायल

यहां हर युवा है एक सोल्जर, जानिए कितना ताकतवर है हमारा दोस्त इजरायल

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी इस समय इजरायल दौरे पर है और इस दौरे से भारत को काफी उम्मीदें हैं। जबसे हमारे पीएम इजरायल दौरे पर है, तबसे आप कुछ ना कुछ इस देश के बारे टीवी चैनलों और अखबारों में पढ़ ही रहे होंगे। लेकिन क्या आप जानते है कि इजरायल में हर एक युवा सैनिक है। चाहे वो लड़का हो या लड़की यहां सबको मिलिट्री ट्रेनिंग लेना जरूरी है। ऐसी ही कुछ और रोचक बातें है इस देश की, जिन्हें आप जरूर जानना चाहेंगे। तो चलिए bhaskarhindi।com के साथ जानिए इस देश की कुछ रोचक बातें।

सैन्य ताकत


  • इजरायल के सभी स्टूडेंट्स, चाहे वह लड़का हो या लड़की, को हाईस्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद अनिवार्य रूप से मिलिट्री सर्विस जॉइन करनी पड़ती है। इस सर्विस की अवधि लड़कों के लिए तीन साल और लड़कियों के लिए 2 साल होती है।
  • इजरायल दुनिया का एकमात्र ऐसा मुल्क है, जहां महिलाओं को अनिवार्य रूप से सैन्य सेवा में काम करना होता है।
  • इजरायल की वायुसेना दुनिया में चौथे नंबर की वायुसेना है। यह किसी भी हमले की सूरत में न सिर्फ जवाब देने में सक्षण हैं, बल्कि किसी भी दुश्मन को पल भल में तहस नहस करने की क्षमता रखते हैं। सिर्फ अमेरिका, रूस और चीन ही उससे आगे है।
  • इजरायल दुनिया का इकलौता ऐसा देश है, जो समूचा एंटी बैलिस्टिक मिसाइल डिफेंस सिस्टम से लैस है। इजरायल के किसी भी हिस्से में रॉकेट दागने का मतलब है मौत।
  • इजरायल की ओर जाने वाला हर मिसाइल रास्ते में ही दम तोड़ देता है।
  • इजरायल दुनिया में उन 9 देशों में शामिल है, जिसके पास अपना सैटेलाइट सिस्टम है। जिसके इस्तेमाल से वो ड्रोन चलाता है। इजरायल अपने सैटेलाइट सिस्टम किसी के साथ साझा नहीं करता।
  • युद्ध में इजराइल का कोई मुकाबला नहीं है। एक बार 7 अरब देश एक साथ मिलकर कोशिश कर चुके हैं, लेकिन उन्हें मुंह की खानी पड़ी और बचा-खुचाचाच विवादित क्षेत्र भी इजराइल ने हथिया लिया था।

भौगोलिक और राजनीतिक क मामले भी है अजब

  • इजरायल जैसे छोटे से देश में 37 राजनीतिक पार्टियों ने सन 2013 के चुनाव में हिस्सा लिया था। इजरायल मिडिल ईस्ट का इकलौता ऐसा देश है, जहां महिलाओं को पुरुषों के बराबर अधिकार हासिल है।
  • इजरायल दुनिया में सर्वाधिक शरणार्थियों को आश्रय देने वाला देश है। दुनिया भर के यहूदियों को जन्म लेते ही इजरायल की नागरिकता मिल जाती है, जो जब चाहें वहां बस सकते हैं।
  • इजरायल की जनसंख्या न्यूयॉर्क की आधी जनसंख्या के बराबर है।
    इजरायल की भाषा हिब्रू भाषा दुनिया में इकलौती ऐसी भाषा है, जिसको पुनर्जन्म मिला है। हिब्रू और अरबी यहां की आधिकारिक भाषा है।
    1952 में अमेरीका ने Albert Einstein को इजराइल का राष्ट्रपति बनने की पेशकश की, परन्तु आइंस्टीन ने ये पेशकश यह कहकर ठुकरा दी कि वह राजनीति के लिए नही बने। इसका कारण यह है कि आइंस्टीन एक यहूदी थे और इजराइल एक यहूदी देश।

बिजनेस के मामले भी सबसे संपन्न

  • इजरायल व्यावसायिक दृष्टि से दुनिया में तीसरे स्थान पर है। इजरायल में 3000 से अधिक हाई-टेक कंपनी हैं, जो दुनिया में सबसे ज्यादा (सिलिकॉन वैली को छोड़कर) है।
  • इजरायल हीरों के होल सेल व्यवसाय का केंद्र है। यहां दुनिया के किसी भी देश की तुलना में सर्वाधिक हीरों की कटिंग और पोलिशिंग होती है।
  • इजरायल के कृषि उत्पादों में 25 साल में सात गुणा बढ़ोतरी हुई है, जबकि पानी का इस्तेमाल जितना किया जाता था, उतना ही अब भी किया जा रहा है।
  • इजरायल अपनी जरुरत का 93 प्रतिशत खाद्य पदार्थ खुद पैदा करता है। खाद्यान्न के मामले में इजरायल लगभग आत्मनिर्भर है।
  • इजरायली बैंक जो नोटी जारी करता है, वो दृष्टिहीन भी पहचान सकते हैं, क्योंकि उसमें ब्रेल लिपि का भी इस्तेमाल किया जाता है।

तकनीक के मामले में भी नहीं है पीछे

  • इजरायल घरेलू कंप्यूटर उपयोग के मामले में दुनिया में पहले नंबर पर है। दुनिया में पहला फोन मोटोरोला कंपनी ने इजरायल में ही बनाया था और माइक्रोसॉफ्ट के लिए पहला पेंटियम चिप इजरायल में ही बना था। साथ ही पहली वॉइस मेल तकनीक इजरायल में ही विकसित की गई थी।
  • दुनिया में पहला एंटीवायरस सबसे पहले सन 1979 में इजरायल में बना। माइक्रोसॉफ्ट और सिस्को ने अमेरिका के बाहर अपने रिसर्च सेंटर सिर्फ इजरायल में ही बनाए।
  • इजरायल के 10 में से 9 घर सोलर एनर्जी का इस्तेमाल करते हैं। सबसे ज्यादा सोलर एनर्जी का इस्तेमाल पानी गर्म करने में होता है।
  • एजुकेशन को भी देता है महत्व
    शिक्षा की बात करें तो जनसंख्या के हिसाब से सर्वाधिक विश्वविद्यालय इजरायल में है। यहां प्रति 10 हजार की आबादी में 109 रिसर्च पेपर प्रकाशित होते हैं। जो दुनिया में सर्वाधिक है। यहां किताबों के मामले में प्रति व्यक्ति के हिसाब से सर्वाधिक किताबें छपती हैं।
  • इजरायल में सिर्फ 40 बुक स्टोर्स हैं, क्योंकि सरकार हर किताब मुहैय्या कराती है। इजरायल में छपने वाली हर किताब की एक कॉपी ज्यूइश नेशनल यूनिवर्सिटी लाइब्रेरी में रखी जाती है।

कुछ अटपटा सा भी है देश

  • इजरायल में यहूदी सुअर नहीं पाल सकते। यह कानूनन जुर्म है।
    दुनिया के किसी भी देश की तुलना में इजरायल के पास प्रति व्यक्ति म्यूजियम की संख्या सबसे अधिक है।
  • इजरायल में रविवार के दिन नाक साफ नहीं कर सकते। ऐसा करने पर मामला दर्ज हो सकता है।
  • दुनिया की सबसे छोटी बाइबल इजरायल में तैयार हुई है, जो 4।76 मिलीमीटर लंबी और चौड़ी है।
  • इजरायल में तय वजन से कम वजन होने पर किसी भी सुंदरी को प्रतियोगिता में भाग नहीं लेने दिया जाता। यहां स्वास्थ्य का मतलब कम वजन बिल्कुल भी नहीं है।
Most Popular

FOLLOW US ON