•  16°C  Mist
Dainik Bhaskar Hindi

Home » Dharm » Here's A Look Inside Kolkata's Kali Temple That Serves Noodles As 'Prasad'

कोलकाता की मां काली, इन्हें प्रसाद में चढ़ाया जाता है 'नूडल्स'

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 30th, 2017 10:57 IST

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। वैसे तो मंदिर में लोग अपनी मन्नत पूरी करने के लिए भगवान को कई प्रकार का चढ़ावा चढ़ाते और भोग लगाते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सुना है भगवान को चाऊमीन, चौप्सी, राइस और वेजिटेबल डिशेस का भी भोग लगाया जाता है। वह भी मां काली को। कोलकाता के तांगरा एरिया में एक ऐसा ही मंदिर स्थित है, जहां मां काली को नूडल्स,चाइनीज, चौप्सी, राइस आदि चढ़ाए जाते हैं। इसकी वजह से यह मंदिर चाइनीज काली मंदिर के नाम से प्रसिद्ध है। कोलकाता में निवास करने वाला चाइनीज समुदाय काली पूजा यहां बढ़ी संख्या में माता के दर्शनों के लिए आता है...

60 साल पुराना 

यह मंदिर लगभग 60 साल पुराना  बताया जाता है। पहले यहां एक प्राचीन पेड़ हुआ करता था, जिसके नीचे कुछ काले पत्थर पड़े रहते थे उस पर हिंदू धर्म के लोग सिंदूर लगा कर पूजा करते थे।  

बीमार हुआ थ बच्चा 

बताया जाता है कि एक बार एक 10 साल का चाइनीज बच्चा बहुत बीमार हो गया था। कोई भी डॉक्टर उसका इलाज नहीं कर पा रहे थे, तब उसके माता पिता ने उस बच्चे को काफ़ी दिनों तक उस पेड़ के नीचे लिटा दिया। उस बच्चे के माता-पिता भी उस पेड़ के नीचे बैठे रहे। 

जलाते हैं कैंडल 

कुछ दिनों बाद बच्चा अपनेआप ठीक होने लगा। जिसके बाद लोगों की आस्था यहां बढ़ने लगी और इसी स्थान पर काली मंदिर का निर्माण कराया गया। कोलकाता में मां काली की पूजा जगप्रसिद्ध है। चाइनीज यहां अपनी श्रद्धानुसार कैंडल भी जलाते हैं। 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

Similar News
125 वर्ष की लीलाएं और 125 फीट का मंदिर, यहां करें राधा-कृष्ण के अद्भुत दर्शन

125 वर्ष की लीलाएं और 125 फीट का मंदिर, यहां करें राधा-कृष्ण के अद्भुत दर्शन

यहां चबूतरे पर विराजमान हैं गिरिराज महाराज, देखें VIDEO

यहां चबूतरे पर विराजमान हैं गिरिराज महाराज, देखें VIDEO

वीजा वाले 'बालाजी', 11 परिक्रमा के बाद यहां मांगी जाती है ये मन्नत

वीजा वाले 'बालाजी', 11 परिक्रमा के बाद यहां मांगी जाती है ये मन्नत

गोबर से बनी है ''गणपति बप्पा'' की ये प्राचीन प्रतिमा

गोबर से बनी है ''गणपति बप्पा'' की ये प्राचीन प्रतिमा

दगडूशेठ हलवाई, 40 किग्रा सोने से सुसज्जित है प्रतिमा, देखें VIDEO

दगडूशेठ हलवाई, 40 किग्रा सोने से सुसज्जित है प्रतिमा, देखें VIDEO

उल्टे स्वास्तिक की मान्यता, आधी जमीन में धंसी है ये स्वयंभू प्रतिमा

उल्टे स्वास्तिक की मान्यता, आधी जमीन में धंसी है ये स्वयंभू प्रतिमा

शक्तिपीठ: दिन में गुजरात, शाम को उज्जैन जाती हैं मां ''शक्ति''

शक्तिपीठ: दिन में गुजरात, शाम को उज्जैन जाती हैं मां ''शक्ति''

ज्योतिर्लिंग: इस वस्त्र में करने होंगे दर्शन, यहां विराजे हैं नागों के देवता 

ज्योतिर्लिंग: इस वस्त्र में करने होंगे दर्शन, यहां विराजे हैं नागों के देवता 

VIDEO: लोटस के आकार का अद्भुत मंदिर, पढ़ें निर्माण की रोचक कथा

VIDEO: लोटस के आकार का अद्भुत मंदिर, पढ़ें निर्माण की रोचक कथा

रात होते ही देवी दर्शन को आते हैं बाघ, फाॅरेस्ट विभाग की निगरानी में है ये मंदिर

रात होते ही देवी दर्शन को आते हैं बाघ, फाॅरेस्ट विभाग की निगरानी में है ये मंदिर

रावण काे मिलती थी शक्तियां, यहां बना है ''राहु'' का रहस्यमयी मंदिर

रावण काे मिलती थी शक्तियां, यहां बना है ''राहु'' का रहस्यमयी मंदिर

लंका से हुआ आगमन, USA में बनेगा कश्मीर के खीर भवानी जैसा मंदिर

लंका से हुआ आगमन, USA में बनेगा कश्मीर के खीर भवानी जैसा मंदिर

दुनिया में सबसे ऊंचा होगा 'कान्हा' का ये मंदिर, 700 करोड़ होगी लागत

दुनिया में सबसे ऊंचा होगा 'कान्हा' का ये मंदिर, 700 करोड़ होगी लागत

सिर्फ इस दिन खुलते हैं द्वार, 75 फीट दूर से होती है इस मंदिर में पूजा

सिर्फ इस दिन खुलते हैं द्वार, 75 फीट दूर से होती है इस मंदिर में पूजा

अनोखी टेक्नलाॅजी, शुद्ध 'घी' से किया गया इस मंदिर का निर्माण

अनोखी टेक्नलाॅजी, शुद्ध 'घी' से किया गया इस मंदिर का निर्माण

वृंदावन जाएं तो यहां 'श्रीकृष्ण' के चरण चिन्ह जरूर देखें

वृंदावन जाएं तो यहां 'श्रीकृष्ण' के चरण चिन्ह जरूर देखें

भूकंप निरोधक तकनीक का उपयोग, 131 साल पहले बना था 'बलदेव मंदिर'

भूकंप निरोधक तकनीक का उपयोग, 131 साल पहले बना था 'बलदेव मंदिर'

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON