•  20°C  Clear
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » Hours after Supreme Court ban UP man gives instant talaq to wife

नाफरमानी : यूपी में सामने आया तीन तलाक का पहला मामला

BhaskarHindi.com | Last Modified - August 24th, 2017 10:16 IST

डिजिटल डेस्क,मेरठ। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के एक साथ तीन तलाक बोलने पर 6 महीने का बैन लगाने के बाद यूपी में तीन तलाक का नया मामला सामने आया है। मेरठ की इस घटना में एक शख्स ने दहेज के लालच में भरी पंचायत के सामने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया। महिला 3 बच्चों की मां है और पिछले 6 साल से दहेज की प्रताड़ना झेल रही है। जिसके बाद बुधवार को उसने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई।

निकाह के 6 साल बाद तीन तलाक

दरअसल मामला मेरठ के सरधना कस्बे का है। 6 साल पहले अर्शी निदा का निकाह मोहल्ले के ही रहने वाले सिराज खान के साथ हुआ था। आरोप है कि सिराज खान शादी के बाद से ही अर्शी को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। इतना ही नहीं सिराज के घर वाले भी अर्शी से कार की डिमांड कर रहे थे।

बेटी के जन्म के बाद थी कार की डिमांड

तीसरी बेटी के जन्म के बाद सिराज खान ने कार की डिमांड करनी शुरू कर दी थी। इसके बाद अर्शी के परिवार वाले अपने दामाद को समझाने भी पहुंचे, लेकिन उसने पूरे मोहल्ले के सामने ही अपनी पत्नी को एक साथ तीन तलाक बोलकर अर्शी से सारे रिश्ते खत्म कर दिए।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने से किया इंकार

अर्शी के घरवालों ने बताया कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में पंचायत को बताया था, लेकिन सिराज सरकार और सुप्रीम कोर्ट को अपशब्द कहते हुए तलाक देने पर अड़ा रहा। वहीं अर्शी निदा ने थाने में जाकर पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है। दहेज उत्पीड़न के मामले में पी अर्शी ने थाना सरधना में रिर्पोट दर्ज करा दी है। अर्शी का परिवार बहुत गरीब है, इसी को ध्यान में रखते हुए अर्शी के परिवार वालों ने पुलिस से अपनी बेटी के निकाह को बचाने की अपील की है।

फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुटी है और आला अधिकारी कुछ भी कहने से बचत रहे हैं।

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

Similar News
धार्मिक अधिकार मौलिक अधिकारों का हिस्सा, समझौता नहीं : जमीयत

धार्मिक अधिकार मौलिक अधिकारों का हिस्सा, समझौता नहीं : जमीयत

ये नरेंद्र मोदी की सरकार है, राजीव गांधी की नहीं : रविशंकर

ये नरेंद्र मोदी की सरकार है, राजीव गांधी की नहीं : रविशंकर

SC का फैसला महिला सशक्तिकरण की दिशा में मजबूत कदम : मोदी

SC का फैसला महिला सशक्तिकरण की दिशा में मजबूत कदम : मोदी

ट्रिपल तलाक पर फैसले का कुछ इस अंदाज में स्वागत, देखें वीडियो

ट्रिपल तलाक पर फैसले का कुछ इस अंदाज में स्वागत, देखें वीडियो

ट्रिपल तलाक के बाद वैवाहिक RAPE पर बैन लगाए सुप्रीम कोर्ट

ट्रिपल तलाक के बाद वैवाहिक RAPE पर बैन लगाए सुप्रीम कोर्ट

तीन तलाक पर रोक लगी है , तीन बार तलाक देने पर नहीं

तीन तलाक पर रोक लगी है , तीन बार तलाक देने पर नहीं

मुस्लिम पंचायत ने तीन तलाक देने वाले पति पर लगाया 75000 रुपए जुर्माना

मुस्लिम पंचायत ने तीन तलाक देने वाले पति पर लगाया 75000 रुपए जुर्माना

ट्रिपल तलाक़ के मामले न के बराबर, सर्वे में हुआ खुलासा 

ट्रिपल तलाक़ के मामले न के बराबर, सर्वे में हुआ खुलासा 

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON