Dainik Bhaskar Hindi

शरद यादव को JDU से निकालकर ही मानेंगे नीतीश ?

शरद यादव को JDU से निकालकर ही मानेंगे नीतीश ?

डिजिटल डेस्क,पटना। बीजेपी के साथ जाने के नीतीश कुमार के फैसले से खफा चल रहे शरद यादव को जेडीयू पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा सकती है। महागठबंधन तोड़ने और बीजेपी के साथ सरकार बनाने के नीतीश कुमार के फैसले ने सियासी पंडितों को तो चौंकाया ही, साथ ही जेडीयू के एक धड़े को भी रुसवा कर दिया। इसके बाद खबरें आईं कि शरद यादव को मनाने के लिए उन्हें मोदी सरकार में मंत्री बनाया जा सकता है, हालांकि मान-मनौव्वल की सारी कोशिशें नाकाम साबित हुईं और अब जेडीयू उन्हें बाहर कर सकती है।

पार्टी व्हिप का उल्लंघन करने पर शरद यादव की राज्यसभा की सदस्यता खत्म करने के मूड में है। दरअसल पार्टी का ऐसा करने के पीछे मकसद राज्यसभा में नया नेता नियुक्त करना है, पार्टी जल्द ही ऐसा कर सकती है। राज्यसभा में पार्टी के 10 सांसद हैं। 

वहीं निलंबन की खबरों के बीच शरद यादव ने एक बार फिर नीतीश पर निशाना साथा है। शरद ने कहा कि 'महागठबंधन जनता के साथ एक बड़ा करार था और इसके टूटने से जनता का विश्वास टूटा है। कई प्रयासों के बाद महागठबंधन बना था। हमने तीन हेलीकॉप्टर से बीजेपी के 26 हेलीकाप्टर का मुकाबला किया था।' 

LIFE STYLE

FOLLOW US ON