Dainik Bhaskar Hindi

फिर टूटा ABVP का सपना, 464 वोटों से जीतीं लेफ्ट की 'गीता'

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश की प्रख्यात जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में छात्रसंघ चुनाव में में एक बार फिर यूनाइटेड लेफ्ट ने बाजी मार ली है। चारों सीटों पर लेफ्ट के ही प्रत्याशियों ने अपनी जीत दर्ज की है। यूनिवर्सिटी में हुए स्टूडेंट यूनियन के चुनाव के नतीजे शनिवार देर रात जारी कर दिए गए थे। हरियाणा की गीता कुमारी ने अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है। उनकी जीत पर उनके परिवार के लोग भी खुशियां मना रहे हैं।

मेधावी स्टूडेंट गीता इतिहास से एमफिल कर रही हैं। जीत के बाद गीता ने कहा, 'मैं इस जश्न के मौके का श्रेय जेएनयू के उन छात्रों को देती हूं जो मानते हैं कि यह इस जैसी लोकतांत्रिक जगह को बचाए रखने की जरूरत है। मैंने प्रचार में जेएनयू की सीटों में कटौती, नजीब की गुमशुदगी, नए हॉस्टल और प्रवेश प्रक्रिया से जुड़े मुद्दों को उठाया था।

ढोल नगाड़ों से गूंजा कैंपस

AISA, SFI और DSF के संयुक्त गठबंधन लेफ्ट यूनिटी की संयुक्त उम्मीदवार गीता कुमारी ने 1506 वोट लेकर एबीवीपी की निधि त्रिपाठी (1042) को हराया। शनिवार देर रात आए चुनाव परिणाम के बाद पूरा जेएनयू कैंपस नारों से गूंज उठा। ढोल नगाड़ों के बीच विजयी दलों के छात्र झूमते गाते हुए दिखे। सेंट्रल पैनल की चारों सीट पर लेफ्ट यूनिटी ने कब्जा किया। लेफ्ट यूनिटी की ओर से गीता कुमारी के अलावा सिमोन जोया खान ने उपाध्यक्ष, दुग्गिराला श्रीकृष्ण ने महासचिव तो शुभांशु सिंह ने संयुक्त सचिव पद पर जीत हासिल की है।

प्रेसिडेंट

गीता कुमारी- (लेफ्ट यूनिटी)- 1506

निधि त्रिपाठी- (एबीवीपी)- 1042

शबाना अली- (बाप्सा)- 935

वाइस प्रेसिडेंट

सिमोन ज़ोया खान (लेफ्ट यूनिटी)- 1876

दुर्गेश कुमार (एबीवीपी)- 1028

सुबोध कुमार (बाप्सा)- 910

जनरल सेक्रेटरी

डुग्गीराला श्रीकृष्णा- (लेफ्ट यूनिटी)- 2082

निकुंज मकवाना- (एबीवीपी)- 975

करम बिद्यनाथ खुमान- (बाप्सा)- 854

ज्वाइंट सेक्रेटरी

शुभांशु सिंह- (लेप्ट यूनिटी)- 1755

पंकज केशरी- (एबीवीपी)- 920

विनोद कुमार- (बाप्सा)- 862

Similar News
JNU छात्रसंघ चुनाव परिणाम : ABVP और LEFT में कांटे की टक्कर

JNU छात्रसंघ चुनाव परिणाम : ABVP और LEFT में कांटे की टक्कर

महिलाओं का आरोप- BJP विधायक के कहने पर ड्रायवर ने मारी टक्कर

महिलाओं का आरोप- BJP विधायक के कहने पर ड्रायवर ने मारी टक्कर

नरोदा गाम दंगा : अमित शाह की गवाही के लिए माया कोडनानी के पास आखिरी मौका

नरोदा गाम दंगा : अमित शाह की गवाही के लिए माया कोडनानी के पास आखिरी मौका

बीजेपी विधायक का शर्मनाक बयान, गौरी RSS के खिलाफ नहीं लिखती तो आज जिंदा होती

बीजेपी विधायक का शर्मनाक बयान, गौरी RSS के खिलाफ नहीं लिखती तो आज जिंदा होती

बीजेपी की सामान्य ज्ञान किताब से गायब हुआ गांधी परिवार

बीजेपी की सामान्य ज्ञान किताब से गायब हुआ गांधी परिवार

LIFE STYLE

FOLLOW US ON