Dainik Bhaskar Hindi

कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 21 मौतों की आधिकारिक पुष्टि, 156 घायलों में 26 की हालत नाजुक

कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 21 मौतों की आधिकारिक पुष्टि, 156 घायलों में 26 की हालत नाजुक

डिजिटल डेस्क, मुजफ्फरनगर। रेलवे ने आज बताया कि उत्तर प्रदेश के पास खतौली में हुई रेल दुर्घटना में 21 लोगों की जान चली गई और अन्य 156 यात्री घायल हैं। यूपी सरकार और रेलवे ने बयानों में कहा गया है कि 156 घायलों में से 26 की हालत गंभीर है और 71 को मामूली तौर पर चोटें आईं हैं। कई घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई ।

इस बीच हादसे की जगह पर रेलवे का राहत और बचाव कार्य खत्म हो चुका है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्ववीट कर यह जानकारी दी। देर रात 3:00 बजे दिल्ली और अंबाला डिवीजन से 140 टन की दो बड़ी क्रेन मौके पर पहुंची और बचाव राहत कार्य शुरू किया। रविवार शाम 6 बजे तक मेरठ लाइन पर ट्रेनें कैंसल की गई हैं और कई ट्रेनों का रूट बदला गया है। ट्रैक की मरम्मत का काम तेजी से चल रहा है। रेलवे का कहना है कि रविवार शाम तक यह रूट शुरू हो जाएगा।

गौरतलब है कि मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस (18477) दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। चश्मदीदों ने हादसे में 50 से अधिक लोगों की मौत की बात कही है, हालांकि आधिकारिक पुष्टि 21 मौतों की हुई है। रेलवे ने हेल्पलाइन नंबर 9760534054/ 5101 जारी किया है। यह हादसा शनिवार शाम 5.50 पर हुआ है। ट्रेन के 2 डिब्बे बुरी तरह एक-दूसरे पर चढ़ गए हैं, जबकि एक कोच पटरी के पास एक घर में जा घुसा है। कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस पुरी से हरिद्वार की ओर जा रही थी। मुजफ्फरनगर से करीब 24 किमी दूर खतौली के पास यह बेपटरी हुई। पुलिस और प्रशासन भी मौके पर बचाव और राहत कार्य में जुटे हुए हैं।

रेलवे सूत्रों से पता चला है कि खतौली के पास जहां ट्रेन हादसा हुआ है, वहां रेलवे ट्रैक पर मरम्मत का काम चल रहा था। पुरी से हरिद्वार जा रही यह कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन अपनी पूरी स्पीड में थी। ड्राइवर ने यहां इमरजेंसी ब्रेक लगाया था। रेलवे मंत्रालय ने मरने वालों के परिजनों को सहायता राशि स्वरूप 3.5 लाख रुपए और गंभीर रूप से घायलों को 50 हजार रुपए और मामूली रूप से घायलों को 25 हजार रुपए देने का ऐलान किया है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। वहीं ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मारे गए लोगों के लिए 5-5 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि रेल मंत्रालय स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए है। यूपी सरकार और रेल मंत्रालय सभी जरूरी मदद मुहैया कराने में जुटे हैं। उन्होंने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। वहीं हादसे को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि घटनास्थल पर हर संभव मदद पहुंचाई जा रही है। आदित्यनाथ ने सुरेश राना और सतीश महाना को मुजफ्फरनगर में घटनास्थल पर पहुंचने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही योगी ने स्थानीय जिलाधिकारी से भी बात की है।

यूपी की ATS टीम को भी मौके पर भेजा गया है। यह ATS टीम इस हादसे में किसी आतंकवादी संगठन का हाथ है या नहीं इस बात की जांच करेगी। डीएसपी अनुप सिंह के नेतृत्व में यह टीम रवाना हुई है। साथ ही 44 राहत दल सदस्यों और 2 खोजी कुत्तों के साथ NDRF की पहली टीम मुजफ्फरनगर के लिए रवाना हो गई है। उधर PAC की नौ कंपनियां खतौली पहुंच गई है।

गौरतलब है कि दुर्घटनाग्रस्त कलिंग उत्कल एक्सप्रेस उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड और ओडिशा से गुजरती है। यह ट्रेन रोजाना रात 9 बजे पुरी से चलती है। इस ट्रेन को शनिवार रात 9 बजे हरिद्वार पहुंचना था।
 

Similar News
बुलेट ट्रेन : 458 किमी का सफर होगा ढाई घंटे में पूरा

बुलेट ट्रेन : 458 किमी का सफर होगा ढाई घंटे में पूरा

चलती ट्रेन में पानी की बॉटल 100 रुपए में बेची, अटैंडर और 2 TTE गिरफ्तार

चलती ट्रेन में पानी की बॉटल 100 रुपए में बेची, अटैंडर और 2 TTE गिरफ्तार

छपरा : प्लेटफॉर्म पर खड़ी उत्सर्ग एक्सप्रेस के टॉयलेट में मिला बम

छपरा : प्लेटफॉर्म पर खड़ी उत्सर्ग एक्सप्रेस के टॉयलेट में मिला बम

समय से 1% तेज भाग रही है नागपुर मेट्रो, पढ़ें पूरी खबर

समय से 1% तेज भाग रही है नागपुर मेट्रो, पढ़ें पूरी खबर

LIFE STYLE

FOLLOW US ON