Dainik Bhaskar Hindi

54 प्रतिशत लोगों ने माना GST ने बढ़ा दी है मंहगाई

54 प्रतिशत लोगों ने माना GST ने बढ़ा दी है मंहगाई

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। जीएसटी लागू किए जाने के दो महीने पूरा होने के मौके पर केंद्र सरकार के उपभोक्ता मामले विभाग से जुड़ी एक पोर्टल ने जब एक सर्वे कराया तब उसमे घरेलू खर्च कम होने के बजाय खर्च में वृद्धि की बात सामने आई। ये कोई एक व्यक्ति के घर के खर्चे की बात नहीं है ये 54 प्रतिशत लोगों का कहना है। सर्वे में लगभग 40 हजार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया और जीएसटी से जुड़े सवालों का जवाब दिया।

कंज्यूमर इंगेजमेंट प्लेटफॉर्म लोकल सर्कल्स द्वारा किए गए सर्वेक्षण में करीब 54 प्रतिशत लोगों ने कहा कि जीएसटी आने के बाद उनके मासिक खर्च में 30 फीसद तक की वृद्धि हुई है। जीएसटी के कारण बढ़ती कीमतों सरकार को आने वाले समय में भारी पड़ सकती है क्योंकि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में लोगों का गुस्सा फूट सकता है।

वहीं लगभग 9000 यानि 6 फीसदी लोगों की बात सरकार के पक्ष में आई। उत्तरदाताओं का कहना की उनके मासिक खर्च में कमी आई है। लोकल सर्कल्स में भाग लेने वाले करीब 51 प्रतिशत लोगों ने कहा कि जीएसटी के लागू होने के बाद उनके मासिक भोजन और किराने के बिल में 30 प्रतिशत तक की बढ़त हुई है। केवल सात प्रतिशत अपने मासिक भोजन और किराना बिल में कमी की सूचना देते हैं।

नोटबंदी की असफलताओं पर विपक्ष पहले से ही हमला कर रहा था वहीं अब जीडीपी में हुई गिरावट से विपक्ष को नया हथियार मिल गया। बता दें की यह लगातार तीसरी ऐसी तिमाही रही जिसमें जीडीपी कम हो गई है। पिछली तिमाही में जीडीपी 6.1% थी।

LIFE STYLE

FOLLOW US ON