Dainik Bhaskar Hindi

मस्जिद जहां बुर्के, स्कार्फ के बिना महिलाएं आ सकेंगी

मस्जिद जहां बुर्के, स्कार्फ के बिना महिलाएं आ सकेंगी

टीम डिजिटल, बर्लिन. जर्मनी में एक ऐसी मस्जिद खोली गई है, जिसमें पुरुषों के साथ-साथ, महिलाएं, सुन्नी, शिया, आम लोग और समलैंगिक एख साथ नमाज अता कर सकेंगे. मस्जिद का नाम इब्न रूश्द गोयथे है. इसेे 16 जून को खोला गया.

इस तरह की मस्जिद का सपना सीरान आतिस ने देखा था. अतिस जानी-मानी महिला अधिकार कार्यकर्ता एवं वकील हैं.उन्होनें इस तरह की मस्जिद के लिए आठ साल की लंबी लड़ाई लड़ी. वो चाहती थी कि मुस्लिम अपने धार्मिक मतभेदों को भूलकर अपने इस्लामी मूल्यों पर ध्यान दें.

और क्या है खास

  • ये जर्मनी में उदारवादी मुस्लिमों के लिए अपने तरह की पहली मस्जिद है.
  • मस्जिद को सेंट जोहांस प्रोटेस्टेंट चर्च के भीतर बनाया गया है.
  • यहां नकाब या बुर्के में प्रवेश नहीं मिलेगा. सुरक्षा कारणों से यह नियम बनाया है.
  • यहां पर महिलाओं को स्कार्फ पहनने की बाध्यता नहीं होगी. वो इमामों की तरह उपदेश दे सकेंगी और अजान दे सकेंगी.
Most Popular
LIFE STYLE

FOLLOW US ON