Dainik Bhaskar Hindi

रेल हादसा : सिस्टम की लापरवाही की पोल खोल रहा है ये viral audio

रेल हादसा : सिस्टम की लापरवाही की पोल खोल रहा है ये viral audio

डिजिटल डेस्क, मुजफ्फरपुर। मुजफ्फरनगर में खतौली के पास हुए उत्कल एक्सप्रेस हादसे का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ऑडियो में दो कर्मचारी फोन पर बात कर रहे है, जिसमें ट्रैक पर चल रहे काम की बात हो रही है। इस ऑडियो से साफ पता चलता है कि रेलवे के जिम्मेदार अधिकारियों को पता था कि ट्रैक पर मरम्मत का काम चल रहा है, फिर भी अधिकारियों ने लापरवाही दिखाई।

गौरतलब है कि शनिवार को मुजफ्फरनगर के पास कलिंग एक्प्रेस दुर्घटनाग्रस्त हुई थी, जिसमें 22 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 100 से ज्यादा लोग घायल हैं। मंत्रालय ने इस घटना की जांच के आदेश भी दे दिए हैं। जांच के पहले ही एक ऑडियो क्लिप वायरल हुआ है। जिसमें रेलवे ही घटना के लिए जिम्मेदार नजर आ रही है ।

आप भी पढ़िए ऑडियो क्लिप में हुई बातचीत

गैंगमैन- हेलो
कर्मचारी- राम राम भाई
कर्मचारी- और तुमने सुन तो लिया होगा
गैंगमैन- हां सुन लिया तभी तो फोन किया है। हां तो ये बताओ कि क्या हुआ था।

कर्मचारी- भाई एक मेरे जैसा ही JE आया, बिल्कुल मेरे जैसा ही है वो... उसका कोई कहना नहीं मानता था... ये तो और दिक्कत हो गई यहां.. काम कोई करना नहीं चाह रहा था।
थोड़ा काम करके वो गेट पर बैठ गया था.. जो ये पुराने लोग हैं लोहार और सब... जैसा ये चाहते हैं वैसा ही कर लेते हैं और यहां सामने वेल्डिंग चल रहा था और ब्लॉक को मना कर दिया था कि ब्लॉक नहीं मिलेगा... पुराने लोगों ने पता नहीं क्या कहा। उन्होंने लाइन का टुकड़ा काट कर दूसरा जोड़ा नहीं और ट्रेन का हो गया टाइम... और ब्लॉक को कर दिया था मना... और फिर गाड़ी तो आती। और उधर से उत्कल एक्सप्रेस आ रही थी... और मैनें गेट बंद कर रखा था। और वहां टुकड़ा था नहीं और ट्रेन पलट गई।

गेटमैन- अच्छा… लाइन कटी हुई थी ?

कर्मचारी- हां लाइन कटी हुई थी… वो जोड़ी हुई नहीं थी… हां और फिर दो-तीन डिब्बे पलट गए… और चार डिब्बे उतरते ही लाइन टूट गई… और उसको जोड़ा भी नहीं गया था और ना ही झंडा लगा रखा था… अरे ब्लॉक नहीं मिला तो झंडा तो लगा लेते कम से कम...

गेटमैन- हां वो तो होना ही चाहिए था

कर्मचारी- हां, ना ही झंडा लगा रखा था इन लोगों ने इसमें। बस और गाड़ी पलट गई। और बीचों बीच वेल्डिंग पड़ी थी और लाइन का टुकड़ा भी पड़ा था। सब चूरा कर दिया इन्होंने और क्या।

गेटमैन- लोग मर भी गए ?

कर्मचारी- हां लोग मर भी गए हैं।

Similar News
रेलवे ने माना- पटरी पर मेंटेनेंस वर्क हो सकता है हादसे की वजह

रेलवे ने माना- पटरी पर मेंटेनेंस वर्क हो सकता है हादसे की वजह

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा : साजिश या एक बड़ी लापरवाही?

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा : साजिश या एक बड़ी लापरवाही?

कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 21 मौतों की आधिकारिक पुष्टि, 156 घायलों में 26 की हालत नाजुक

कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस हादसे में 21 मौतों की आधिकारिक पुष्टि, 156 घायलों में 26 की हालत नाजुक

ग्रामीणों ने किया चुटका परमाणु संयंत्र का विरोध, नहीं करने दिया मिट्टी परीक्षण

ग्रामीणों ने किया चुटका परमाणु संयंत्र का विरोध, नहीं करने दिया मिट्टी परीक्षण

अकोला में 16 लाख का प्रतिबंधित गुटखा जब्त

अकोला में 16 लाख का प्रतिबंधित गुटखा जब्त

FOLLOW US ON