Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » Naxalite 3rd largest terrorist orgnaistaion in the world

नक्सली बोको हराम से ज्यादा घातक आतंकी संगठन : US रिपोर्ट

DainikBhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:24 IST

नक्सली बोको हराम से ज्यादा घातक आतंकी संगठन : US रिपोर्ट

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। नक्सलियों को बोको हराम से ज्यादा घातक बताया गया है। नक्सली दुनिया का तीसरा सबसे घातक आतंकी संगठन है। यूएस स्टेट डिपार्टमेंट के कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाली आतंकवाद से जुड़े आंकड़ों का विश्लेषण करने वाली संस्था NCSTRT के डेटा से ये पता लगता है। नंबर एक पर आईएस है तो दूसरे पर तालिबान। बीते साल हुए 334 आतंकी हमलों के पीछे माओवादियों का हाथ बताया गया। इनमें 174 लोगों की जान गई और 141 घायल हुए। साल 2016 में भारत में हुए आतंकी हमलों में से आधे से ज्यादा जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़, मणिपुर और झारखंड में हुए।

बिहार में सीआरपीएफ पर हुए नक्सलियों के हमले को सबसे ज्यादा घातक बताया गया है। इस हमले में 16 मौतें हुई थी जिसमें हमलावर और जवान दोनों शामिल थे। यूएस रिपोर्ट के मुताबिक भारत में दो तिहाई आतंकी हमलों को नक्सलियों ने अंजाम दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में होने वाले आतंकी हमलों की संख्या में साल 2015 की तुलना में 9 प्रतिशत की कमी आई है।

आतंकियों के निशाने पर तीसरे नंबर पर है भारत

यूएस स्टेट डिपार्टमेंट के डाटा से पता चलता है कि साल 2016 में आतंकी हमलों का कहर झेलने वाले टॉप देशों की सूची में भारत ने पाकिस्तान को पीछे छोड़ दिया है। उसके मुताबिक आतंकी हमलों में मरने और घायल होने वालों की संख्या पाकिस्तान से ज्यादा भारत में है।

NCSTRT की रिर्पोट से ये साफ हो जाता है कि आतंकी हमलों के मामले में इराक और अफगानिस्तान के बाद भारत का नंबर आता है। इससे पहले तीसरे नंबर पर पाकिस्तान था।

रिर्पोटस के मुताबिक साल 2016 में दुनियाभर में कुल 11 हजार 72 आतंकवादी हमलों को अंजाम दिया गया। इनमें से भारत में 927 (16 प्रतिशत) हमले हुए। साल 2015 में भारत में यह संख्या 798 थी। वहीं साल 2015 में घायलों की संख्या 500 थी जबकि 2016 में यह बढ़कर 636 हो गई। वहीं, दूसरी तरफ पाकिस्तान में आतंकी हमलों की संख्या 2015 के मुकाबले 2016 में 27 प्रतिशत कम हुई है। 2015 में जहां पाकिस्तान में 1010 आतंकी हमलों को अंजाम दिया गया वहीं 2016 में 734 हमले हुए।

डेटा के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में होने वाले आतंकी हमले बीते साल 93 प्रतिशत बढ़ गए हैं। हालांकि, भारतीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में आतंकी गतिविधियां 54.81 प्रतिशत बढ़ी हैं।


समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

loading...
एक नज़र इधर भी
loading...
loading...
loading...

FOLLOW US ON