•  20°C  Clear
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » nitish kumar cabinet meeting bihar lalu yadav tejashwi yadav jdu rjd

नीतीश ने आज बुलाई कैबिनेट की बैठक, लेंगे बड़ा फैसला

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 14:51 IST

नीतीश ने आज बुलाई कैबिनेट की बैठक, लेंगे बड़ा फैसला

डिजिटल डेस्क,पटना। बिहार की राजनीति में बहुत उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहे हैं। JDU, राष्ट्रीय जनता दल (RJD ) और कांग्रेस सहित अन्य घटक दलों के महागठबंधन पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। 80 विधायकों के साथ RJD महागठबंधन और बिहार की सत्ता में मजबूत दावेदारी रखती है। ऐसे में उसकी ताल से ताल मिलाना फिलहाल नीतीश की मजबूरी है। मंगलवार को जेडीयू की बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ किया कि भ्रष्टाचार पर उन्होंने हमेशा जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है। उन्होंने इशारों ही इशारों में कल बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को इस्तीफा देने के संकेत भी दिए हैं, लेकिन लालू ने भी पलटवार कर साफ़ किया है कि उनके सुपुत्र इस्तीफा नहीं देंगे। इस तनातनी के बीच मान-मनौव्वल का दौर जारी है। अब देखना ये है कि महागठबंधन में पड़ी ये गांठ सुलझती है या नहीं। 

मना जा रहा है कि नीतीश की ओर से तेजस्वी यादव के मुद्दे पर राजद को चार दिन का अल्टीमेटम दिया था। अब बुधवार को सुबह 11 बजे नीतीश कुमार ने अपनी कैबिनेट बैठक बुलाई है। उम्मीद है कि इस बैठक में कोई बड़ा और सख्त फैसला हो सकता है, क्योंकि बिहार के मुख्यमंत्री के सामने सरकार बचाने से ज्यादा अपनी साख बचाने का दबाव है।

सोमवार को बैठक के बाद जेडीयू ने लालू प्रसाद की पार्टी को चार दिन का अल्टीमेटम दिया था। जेडीयू ने कहा कि अगर चार दिन के भीतर लालू यादव तेजस्वी के इस्तीफे पर कोई फैसला नहीं कर पाते तो फिर जेडीयू कोई बड़ा ऐलान कर सकती है मीटिंग में नीतीश कुमार ने साफ शब्दों में कहा कि ये मामला दूसरी पार्टी यानी आरजेडी से जुड़ा है, ऐसे में तेजस्वी के इस्तीफे पर आरजेडी को ही फैसला लेना होगा।

मीटिंग के बाद जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने बताया कि पार्टी तेजस्वी यादव से आरोपों पर सफाई चाहती है। उन्होंने कहा कि हम गठबंधन धर्म का पालन करेंगे, मगर नीतीश कुमार भ्रष्टाचार पर जीरो टोलरेंस की नीति पर काम करते हैं। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव सार्वजनिक तौर पर तथ्य रखें और अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई दें। दरअसल, बिहार सरकार में सहयोगी आरजेडी के प्रमुख लालू यादव और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के यहां सीबीआई छापों के बाद ये बड़ी बैठक हुई है। सबकी निगाहें महागठबंधन के भविष्य पर टिकी हुई है।

 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON