•  17°C  Mist
Dainik Bhaskar Hindi

Home » Entertainment » Remember these kids who work as a child artist in bollywood movies

Children's Day Spl: इन चाइल्ड आर्टिस्ट ने हिंदी सिनेमा में दिया खास योगदान

BhaskarHindi.com | Last Modified - November 14th, 2017 18:55 IST

डिजिटल डेस्क, मुंबई। देश में आज के दिन 14 नवंबर को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन भारत के पहले पीएम जवाहर लाल नेहरू का जन्म हुआ था। चाचा नेहरू को बच्चों से बहुत प्यार था इसलिए उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिंदी सिनेमा में भी बच्चों का बहुत योगदान रहा है। आज हम आपको कुछ ऐसे बच्चों से परिचित करवाएंगे जिन्होंने हिंदी फिल्मों, नाटकों में बाल कलाकार के रुप में भूमिका निभाई। ये सभी बाल कलाकार आज बड़े हो गए हैं और फिल्मों में सक्रिय हैं। एक वक्त ऐसा था जब हिंदी सिनेमा में बच्चों के लिए खूब फिल्में बनीं।

 

 

मिस्टर इंडिया...एक ऐसी फिल्म जिसमें बाल कलाकारों की काफी ज्यादा संख्या थी। जिसके लिए निर्देशकों को कई बच्चों को सिलेक्ट करना पड़ा। इस फिल्म में बच्चों का काफी अहम रोल था। इस फिल्म में आफताब शिवदासानी, अहमद खान समेत कई बच्चों ने बेहतरीन काम किया। इस फिल्म को हिंदी सिनेमा के इतिहास में बच्चों के लिए बनी सबसे बेहतरीन फिल्म माना जाता है।

 

1987 में टीवी सीरियल टगुल गुलशन गुलफामट से बॉलीवुड एक्टर कुणाल खेमू ने अपने सफर की शुरुआत की। कुणाल 'दुश्मन', 'हम है राही प्यार के', 'राजा हिंदुस्तानी' जैसी फिल्मों में बाल कलाकार के रूप में नजर आ चुके है।

  

अमोल गुप्ते की यह फिल्म काफी एंटरटेनिंग है। इस फिल्म में पार्थो गुप्ते का किरदार बच्चों के बीच खासा लोकप्रिय है। इस फिल्म में दिखाया गया है कि हम अक्सर जो चीजें बच्चों को करने के लिए मना करते हैं, वही करते हैं।  

परजान दस्तूर को आपने फिल्म (कुछ कुछ होता है) में देखा होगा। वह कई टीवी धारावाहिकों और एड फिल्म्स में काम कर चुके हैं।  

 

आमिर खान की फिल्म 'तारे जमीन पर' जैसी फिल्म ने बच्चों में एक नया उत्साह जगाया। इस फिल्म में बाल कलाकर दर्शिल सफारी ने जबरदस्त अभिनय किया। बच्चों पर बेस्ड़ फिल्म बम बम भोले से भी दर्शिल ने लोगों को लुभाया। 


जिब्रान खान ने महज 7 साल की उम्र में फिल्म कभी खुशी कभी गम में शाहरुख और काजोल के बेटे का किरदार निभाया था। 

 

 

नील माधव पंडा की नेशनल अवॉर्ड विनिंग फिल्म 'आय एम कलाम' उन बच्चों के लिए सबसे बेहतरीन फिल्म हैं जो गरीब होकर भी पढ़ाई की चाह रखते हैं। इस फिल्म में एक ऐसे ही लड़के की कहानी बताती है जो हर हाल में अंग्रेजी सीखना चाहता है। इस फिल्म में हार्ष मायर और हुसैन साद ने बेहतरीन अभिनय किया। 

 

फिल्म छोटा चेतन में बाल किरदार के रूप में मास्टर अरविंद ने जबरदस्त अभिनय किया। फिल्म में वह एक तांत्रिक के चुंगुल से निकलकर कुछ बच्चों को मिल जाता है। चेतन के पास कुछ दिव्य शक्तियां होती है,जिसके लिए तांत्रिक उसे बुरे कामों में इस्तेमाल करना चाहता है।

 

बाल चित्र समिति द्वारा तैयार की गई 90 मिनिट की फिल्म 'करामाती कोट' में ओम राऊत ने कमाल कर दिया। जिन बच्चों ने भी यह फिल्म देखी है उन्हें यह बहुत पसंद आती है। 

 

फिल्म 'अंजली' यह एक ऐसी बच्ची की कहानी दिखाती है जो मानसिक रूप से विक्षित है और मरने वाली है। इस फिल्म को 3 नेशनल अवॉर्ड मिले हैं इस फिल्म में शामिली नाम की बाल कलाकार ने उम्दा अभिनय किया। 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

Similar News
कुछ ऐसी है डैनी के बेटे रिंजिंग की लाइफ, इस एक्ट्रेस को कर रहे डेट

कुछ ऐसी है डैनी के बेटे रिंजिंग की लाइफ, इस एक्ट्रेस को कर रहे डेट

थाइलैंड के बीच पर ब्लैक बिकिनी में देखिए 'किन्नर बहू' रुबीना दिलैक का हॉट अंदाज

थाइलैंड के बीच पर ब्लैक बिकिनी में देखिए 'किन्नर बहू' रुबीना दिलैक का हॉट अंदाज

बॉलीवुड में इस फिल्म से एक बार फिर कमबैक कर रही हैं रामायण की 'सीता'

बॉलीवुड में इस फिल्म से एक बार फिर कमबैक कर रही हैं रामायण की 'सीता'

रेस 3 की शूटिंग के पहले दिन नाराज हुए दबंग खान

रेस 3 की शूटिंग के पहले दिन नाराज हुए दबंग खान

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON