Dainik Bhaskar Hindi

एंबी वैली की नीलामी पर रोक लिए सहारा ने खटखटाया SC का दरवाजा

एंबी वैली की नीलामी पर रोक लिए सहारा ने खटखटाया SC का दरवाजा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सहारा अपने पुणे प्रोजेक्ट एंबी वैली को बचाने के लिए सुप्रीम कोर्ट के दरवाजे पर पहुंच गया है। सहारा ने एंबी वैली  की निलामी को रोकने के लिए SC में गुहार लगाई हैं। आपको बता दें मार्केट रेगुलेटर सेबी को बकाया रकम चुकाने की वजह से नीलाम किया जा रहा है। जिसकी प्रक्रिया शुरू हो गई है।

SC ने सहारा ग्रुप से लगभग 20,000 करोड़ रुपए चुकाने के लिए कहा था। ये रकम उन इनवेस्टर्स को दी जानी है जिन्होंने सहारा ग्रुप की दो स्कीमों में इनवेस्टमेंट किया था। गौरतलब है कि सेबी ने सहारा की दोनों स्किमों को अवैध घोषित किया है। 

सहारा नीलामी रोकने के लिए दलील दी है कि वो पैसे चुकाने के लिए बंदोबस्त की जुगत में लगे हैं और जल्द ही वो ऐसा कर भी लेंगे।

उल्लेखनीय है कि सेबी के मुताबिक ये रकम अब प्रिंसिपल और इंटरेस्ट को मिलाकर करीब 37,000 करोड़ रुपए हो गई है। सहारा ने अभी तक प्रिंसिपल अमाउंट के एक बड़े हिस्से का भुगतान नहीं किया है। कंपनी को अभी प्रिंसिपल अमाउंट के हिस्से के तौर पर 9,000 करोड़ रुपए और चुकाने हैं।

SC ने दिखाई सख्ती

जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई वाली बेंच ने सहारा ग्रुप पर दबाव बनाते हुए कहा कि इंटरेस्ट की रकम चुकाने को लेकर सहारा ग्रुप की आपत्ति पर बेंच के सुनवाई करने से पहले ये भुगतान किया जाए।

दरसअल 25 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने सहारा प्रमुख को 7 सितंबर तक 1805 करोड़ रुपए जमा कराने के आदेश दिए थे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि एमबी वैली प्रॉपर्टी के नीलाम करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाए।

सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि पहले बकाया पैसे जमा हों। उसके बाद हम देखेंगे कि निवेशक को पैसा आपके कहे मुताबिक मिला था या नहीं। हम यह भी देखेंगे कि वो निवेशक थे, काल्पनिक थे या चांद से आए थे।
 

LIFE STYLE

FOLLOW US ON