•  14°C  Clear
Dainik Bhaskar Hindi

Home » City » Science faculty facility for tribal students will in Sainik School

सैनिक स्कूलों में आदिवासी छात्रों के लिए विज्ञान संकाय की मंजूरी

BhaskarHindi.com | Last Modified - September 11th, 2017 19:54 IST

सैनिक स्कूलों में आदिवासी छात्रों के लिए विज्ञान संकाय की मंजूरी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने 5 सैनिक स्कूलों में आदिवासी विद्यार्थियों के लिए विज्ञान संकाय की 11वीं व 12वीं की कुल 8 कक्षाओं को मंजूरी दी है। इस संबंध में शासनादेश जारी कर दिया गया है। सरकार ने औरंगाबाद के बीड़ बायपास रेलवे स्टेशन के पास स्थित राष्ट्रमाता इंदिरा गांधी सैनिक स्कूल, बीड़ के राजुरी स्थित नवगन सैनिक विद्यालय और बुलढाणा के राजमाता जिजाऊ सैनिक स्कूल में 11वीं की एक-एक अतिरिक्त कक्षाओं की मंजूरी दी है।

बुलढाणा के कोलवड स्थित राजीव गांधी सैनिक स्कूल में 11वीं व 12वीं की एक-एक और कक्षाओं को स्वीकृति प्रदान की गई है। धुलिया के छत्रपति शिवाजी सैनिक स्कूल में 11वीं की दो और 12वीं की एक कक्षा को मंजूरी मिली है। सरकार ने कहा है कि इन कक्षाओं में आदिवासी विद्यार्थियों की संख्या 45 होनी चाहिए और इतने विद्यार्थी न होने पर सामान्य कक्षाओं में विद्यार्थियों को समायोजित किया जाए। इन स्कूलों में वर्ष 2014-15 से 11वीं की 6 कक्षाएं और वर्ष 2015-16 से 12वीं की 2 कक्षाएं शुरू हुई थीं।

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

Similar News
प्रद्युम्न मर्डर : स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ सख्त कार्रवाई- शिक्षा मंत्री

प्रद्युम्न मर्डर : स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ सख्त कार्रवाई- शिक्षा मंत्री

एमपी में व्यापम से बड़ा घोटाला, हजारों छात्रों को बिना परीक्षा के कर दिया पास : AAP

एमपी में व्यापम से बड़ा घोटाला, हजारों छात्रों को बिना परीक्षा के कर दिया पास : AAP

शहीद अब्दुल राशिद की बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे गौतम गंभीर

शहीद अब्दुल राशिद की बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाएंगे गौतम गंभीर

'निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार' नियमों में 8 साल बाद संशोधन

'निःशुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा अधिकार' नियमों में 8 साल बाद संशोधन

मेधावी छात्र योजना का शुभारंभ, शिवराज ने दिए शिक्षण शुल्क स्वीकृति सर्टिफिकेट

मेधावी छात्र योजना का शुभारंभ, शिवराज ने दिए शिक्षण शुल्क स्वीकृति सर्टिफिकेट

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON