Dainik Bhaskar Hindi

6 डॉक्टरों ने 11 घंटे के ऑपरेशन के बाद जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

6 डॉक्टरों ने 11 घंटे के ऑपरेशन के बाद जोड़ा लड़की का कटा हुआ हाथ

डिजिटल डेस्क,लखनऊ। गुरुवार को केजीएमयू अस्पताल के 6 डॉक्टरों ने 13 साल की लड़की का कटा हुआ हाथ 11 घंटे की मशक्कत के बाद जोड़ दिया है। दरअसल बुधवार को लखीमपुर खीरी में एक लड़की पर मनचले ने तलवार से हमला कर उसका हाथ कलाई से काट दिया था। जिसके बाद पुलिस ने कटे हुए हाथ को पॉलिथीन में रख कर केजीएमयू अस्पताल की सर्जरी डीपार्टमेंट को सौंप दिया था।

घटना की सूचना मिलते ही डॉ. बृजेश के नेतृत्व में 6 डॉक्टरों की टीम बनाई गई। 11 घंटे तक सर्जरी के बाद लड़की को पोस्ट ऑपरेटिव आईसीयू में रखा गया है। यहां उसे लगभग एक सप्ताह तक निगरानी में रखा जाएगा। इसके बाद पता चलेगा कि सर्जरी में कितनी सफलता मिली है। 

ऐसे हुआ ऑपरेशन

डॉक्टरों के मुताबिक बायीं कलाई हाथ से अलग हो गई थी। अलग हुई कलाई को एक विशेष तार की मदद से हड्डी को आपस में बांध दिया। इसके बाद सफैलिक वेन, रेडियल और मीडियन आर्टरी को जोड़ा गया, जिससे हाथ के काम करने की संभावना बढ़ गई है।

परिवार को सरकार ने दी आर्थिक मदद

पीड़ित परिवार आर्थिक रूप से बेहद कमजोर हैं। पीड़िता की मां और छोटी बहन जन्म से अंधी हैं। बड़ा भाई राजस्थान में काम करता हैं। छोटा भाई और पिता लखीमपुर में ही छोटा-मोटा काम कर के घर चलाते हैं। महिला कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी गुरुवार को पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंची। उन्होंने पीड़िता की छोटी बहन की आंखों का इलाज कराने के लिए डीएम लखीमपुर खीरी को पत्र लिखकर पीड़ित परिवार को घर दिलाने की भी बात कही। इसके साथ ही परिवार को रानी लक्ष्मीबाई एवं बाल सम्मान कोष से आर्थिक सहायता दिलाने की भी बात कही है। साथ ही चारों बच्चों को पढ़ने के लिए आर्थिक मदद दिलाने की भी बात कही है।
 

FOLLOW US ON