Dainik Bhaskar Hindi

पाकिस्तान क्यों नहीं चाहता अपने ही नागरिकों का भला : सुषमा स्वराज

पाकिस्तान क्यों नहीं चाहता अपने ही नागरिकों का भला : सुषमा स्वराज

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। सुषमा ने कुलभूषण मामले में अपने पाकिस्तानी समकक्ष सरताज अजीज पर वार करते हुए आरोप लगाया है कि कुलभूषण जाधव की मां को वीजा दिए जाने के लिए उन्होंने पाक विदेशमंत्री को व्यक्तिगत पत्र लिखा था, लेकिन उन्होंने पत्र का जवाब देने तक का शिष्टाचार भी नहीं निभाया। लेकिन मैं पाकिस्तानी नागरिकों को ये भरोसा दिलाती हूं कि वह सरताज अजीज की सिफारिश के साथ मेडिकल वीजा के लिए आवेदन करने पर उन्हें तुरंत भारत का वीजा उपलब्ध कराया जाएगा।

एक पाकिस्तानी महिला ने आरोप लगाया था कि भारत की ओर से उसकी कैंसर पीड़ित बेटी को वीजा देने से मना कर दिया गया। इसी को लेकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कई ट्वीट कर इस आरोप का खंडन किया है। सुषमा ने ट्वीट कर लिखा कि मेरी सांत्वना उन सभी पाकिस्तानियों के साथ हैं,जो भारत में इलाज कराने के लिए मेडिकल वीजा चाहते हैं। मुझे विश्वास है कि सरताज अज़ीज की भी अपने देश के नागरिकों के प्रति यही सोच होगी।

उन्होंने आगे लिखा कि 'वीजा देने के लिए सिर्फ मुझे पाकिस्तान की ओर मेडिकल वीजा जारी करने की रिकमेंडेशन की ज़रूरत होगी। मुझे ये समझ नहीं आ रहा कि पाकिस्तान खुद अपने देश के नागरिकों के लिए रिकमेंडेशन देने से क्यों हिचक रहा है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान की एक महिला ने कुछ दिन पहले ही ये आरोप लगाया था कि भारत ने उसकी कैंसर पीड़ित बेटी को वीज़ा देने से इनकार कर दिया है। महिला का कहना था कि उसकी 25 साल की बेटी कैंसर से पीड़ित है। वह इलाज के लिए भारत जाना चाहती थी, लेकिन भारतीय दूतावास ने दोनों देशों के बिगड़ते रिश्तों का हवाला देते हुए मेडिकल वीजा देने से मना कर दिया।

 

Most Popular
LIFE STYLE

FOLLOW US ON