•  16.8°C  Partly cloudy
Dainik Bhaskar Hindi

Home » City » teacher became barber in mumbai

अजीब सजा : जबरिया काटे विद्यार्थियों के बाल, पीटी शिक्षक समेत तीन गिरफ्तार

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 16:31 IST

अजीब सजा : जबरिया काटे विद्यार्थियों के बाल, पीटी शिक्षक समेत तीन गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, विकरोली/मुंबई। स्कूलों में बच्चों को अनुशासन के दायरे में रखने के नाम पर फौजी हेयर स्टाइल न रखने वाले छात्रों पर बरती गई सख्ती शिक्षकों को भारी पड़ गई है। मुंबई में एेसी सख्ती के नाम पर एक निजी स्कूल के पीटी (शारीरिक प्रशिक्षण) टीचर ने 25 बच्चों की हेयर स्टाइल पसंद न आने पर खुद उनके बाल काट डाले, जिसके बाद अभिभावकों की शिकायत पर तीन शिक्षकों को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

मिली जानकारी के मुताबिक़ पीटी टीचर ने बच्चों को फौजी कट रखने को कहा था, जिसे उन्होंने नहीं माना। इसके बाद स्कूल के चपरासी के साथ मिलकर उनके बाल कतर दिए गए. बताया गया है कि इसमें शिक्षक मिलिंद धनके के साथ चपरासी भी शामिल था. इसके इतर एक और अजीबोगरीब कारण सामने आया है, जिसमें कहा जा रहा है कि ट्रस्टी के बेटे गणेश भट्‌टा के कहने पर पीटी शिक्षक ने छात्राें को यह अजीब सजा दी है। 

यह मामला विक्रोली इलाके में स्थिति निजी इंग्लिश मीडियम 'केवीवी इंग्लिश हाई स्कूल' का है। शुक्रवार को हुई इस घटना के बाद अभिभावकों की शिकायत पर पुलिस ने शनिवार को तीनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें बच्चों को प्रताड़ित करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। सभी को शनिवार को कोर्ट में भी पेश किया गया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। करीब 30 अभिभावकों ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई थी।

छात्रों को आईं चोटें : जानकारी के मुताबिक पीटी शिक्षक मिलिंद धनके ने स्कूल के बच्चों को पहले फौजी कटबाल कटाने को कहा, लेकिन जब बच्चों ने बाल छोटे नहीं कराए, तो टीचर ने स्कूल के चपरासी की मदद से खुद 25 बच्चों के बाल बेढंग तरीके से काट दिए। जिन बच्चों के बालकाटे गए हैं, वे कक्षा 5 से 9 के छात्र हैं। छात्रों का कहना है कि बाल काटने के दौरान उन्हेंकैंची से चोटे आईं। इसके साथही जब हम दोबारा क्लास मेंगए तो हमें काफी शर्मिंदगीमहसूस हुई।

अभिभावकों से मिली शिकायत  

अभिभावकों की शिकायत पर मामले में स्कूल ट्रस्टी के बेटे गणेश भट्‌टा, चपरासी व शिक्षक मिलिंद धनके को गिरफ्तार किया गया है। पूछताछ में धनके ने बताया कि गणेश भट्टा के आदेश पर ही बच्चों के बाल काटे गए हैं। -सचिन पाटील, पुलिस उपायुक्त

पुलिस कार्रवाई राजनीति से प्रेरित : ट्रस्टी 

हालांकि स्कूल के एक अन्य ट्रस्टी ने कहा कि बच्चों में अनुशासन सिखाने के लिए उन्हें बाल छोटे कराने के लिए कहा गया था। ट्रस्टी ने पुलिस की कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित बताया है।

 

 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

FOLLOW US ON