•  17°C  Mist
Dainik Bhaskar Hindi

Home » Sports » The Team India captain could not even do that, Mitali Raj do somthing shoking

जो मेन्स क्रिकेट के कैप्टन भी नहीं कर पाए, वो मिताली ने कर दिखाया

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 15:53 IST

जो मेन्स क्रिकेट के कैप्टन भी नहीं कर पाए, वो मिताली ने कर दिखाया

डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। इंडियन वुमेन्स क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज के लिए इस बार का वर्ल्ड कप कई तरह से खास है। इस बार उन्होंने न सिर्फ अच्छा प्रदर्शन किया, बल्कि एक ऐसा कारनामा अंजाम दिया है, जो मेन्स इंडियन क्रिकेट के कैप्टन भी नहीं कर पाए हैं। मिताली राज इंडिया को वर्ल्ड कप के फाइनल में दो बार एंट्री दिलाने वाली इंडिया की पहली कैप्टन बन गई हैं। मेन्स क्रिकेट टीम में ये रिकॉर्ड अब तक किसी कैप्टन के नाम नहीं है।

मिताली ने बनाया रिकॉर्ड 
मिताली राज ने इससे पहले टीम को 2005 में वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाया था, लेकिन वहां पर टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया से हार गई थी। इस बार भी उन्होंने अपनी टीम को फाइनल में एंट्री दिलाई है। लेकिन इस बार टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को सेमीफाइनल में हराकर फाइनल में प्रवेश किया है।

इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन

वुमेन्स वर्ल्ड कप-2017 में मिताली राज इंडिया की तरफ से सबसे ज्यादा रन (392) बनाने वाली खिलाड़ी हैं। इसके अलावा वो इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-10 खिलाडियों में 5वें नंबर पर हैं।

मेन्स क्रिकेट में अलग-अलग कैप्टन रहे  

अगर मेन्स क्रिकेट टीम की बात करें, तो इंडियन टीम को वर्ल्ड के फाइनल में पहुंचाने वाले कप्तानों में कपिल देव, राहुल द्रविड़ और महेंद्र सिंह धोनी का नाम शामिल है। लेकिन ये सभी कैप्टन सिर्फ एक ही बार टीम को फाइनल में पहुंचाने में कामयाब हुए हैं। इसमें से हम दो बार वर्ल्ड कप जीते हैं, पहली बार कपिल देव और दूसरी बार महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में।

 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON