Dainik Bhaskar Hindi

जेल में गए बाबा, अब कौन संभालेगा उनकी अरबों की विरासत ?

डिजिटल डेस्क, हिसार।सीबीआई के विशेष जज द्वारा रेप के मामले में बाबा गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाए जाने के बाद अब बाबा की विरासत को लेकर बड़े सवाल उठ रहे हैं। बाबा के पास अरबों की संपत्ति है। आखिर इस संपत्ति और बाबा की गद्दी का वारिस कौन होगा? यह एक बड़ा सवाल है, लेकिन कुछ चेहरे ऐसे है जो सामने आ रहे हैं।

गौरतलब है कि कोर्ट द्वारा बाबा को रेप केस में आरोपी ठहराए जाने के बाद पंजाब और हरियाणा समेत कई राज्यों में बाबा समर्थकों द्वार हिंसा, तोड़फोड़ और आगजनी की गई थी। जिसके बाद कोर्ट ने आदेश दिया था कि नुकसान की भरपाई बाबा की संपत्ति जब्त की जाएगी। अब यह बड़ा सवाल यह है कि डेरा की सत्ता किसके हाथ में होगी। चआइए जानते हैं कौन हो सकते हैं बाबा के वारिस।

क्या बाबा ही बने रहेंगे सर्वे-सर्वा?

मौजूदा डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम आगे भी डेरा सच्चा सौदा की कमान संभाले रख सकते हैं। वह जेल से ही अपने साम्राज्य को चला सकते हैं, क्योंकि उन्होंने अब तक इस मामले में कोई घोषणा नहीं की है। ऐसे में सबसे ज्यादा कयास बाबा के नाम पर ही लगाए जा रहे है।

गुरु विपसना

विपसना डेरा में दूसरे स्थान पर 35 साल की गुरु ब्रह्मचारी विपसना मानी जाती हैं। ब्रह्मचारी विपसना के पास फैसला करने का एकमात्र अधिकार है। विपसना ने डेरा द्वारा चलाए गर्ल्स कॉलेज से ही ग्रेजुएशन तक की पढ़ाई की है। 250 लोगों की टीम का वे नेतृत्व करती हैं, जिसमें से करीब 150 महिलाएं हैं। विपसना डेरा द्वारा संचालित सामाजिक सेवा परियोजनाओं का संचालन करती हैं।

बेटा भी दौड़ में

बाबा ने 2007 में बेटे जसमीत इंसां को उत्तराधिकारी बनाने की घोषणा की थी। ऐसा कहा जा रहा है कि डेरा सच्चा सौदा की गद्दी उनके बेटे जसमीत सिंह इंसां संभालेंगे। गुरमीत ने 2007 में उस समय जसमीत इंसां को अपनी उत्तराधिकारी बनाने की घोषणा की थी, जब CBI ने गुरमीत के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी। हालांकि प्रथा के मुताबिक डेरा का अगला प्रमुख मौजूदा प्रमुख के परिवार या खानदान से नहीं हो सकता है।

गोद ली हुई बेटी को मिल सकती है सत्ता

गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत बाबा की सभी फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं। 35 साल की हनीप्रीत बाबा की सत्ता संभाल सकती हैं। हनीप्रीत को डेरा प्रमुख ने गोद लिया था और वह ब्रह्मचारी हैं। हनीप्रीत का पलड़ा इसलिए भी भारी माना जा रहा है, क्योंकि वे हमेशा राम रहीम के साथ रहती है। वह जेल जाते वक्त भी गुरमीत राम रहीम के साथ थीं। उनका सामान लेकर वे उनके साथ चल रही थीं।

Similar News
1000 रुपये, फ्री का खाना देकर भाड़े पर लाए गए थे राम रहीम के गुंडे

1000 रुपये, फ्री का खाना देकर भाड़े पर लाए गए थे राम रहीम के गुंडे

राम-रहीम पर फैसला आज, चार जिलों में स्कूल-कॉलेज और दफ्तर बंद

राम-रहीम पर फैसला आज, चार जिलों में स्कूल-कॉलेज और दफ्तर बंद

राम रहीम को सजा सुनाने हेलीकॉप्टर से रोहतक जेल पहुंचेंगे जज

राम रहीम को सजा सुनाने हेलीकॉप्टर से रोहतक जेल पहुंचेंगे जज

10वीं में फेल हुए थे बाबा, लड़की छेड़ा तो स्कूल से निकाल दिया गया

10वीं में फेल हुए थे बाबा, लड़की छेड़ा तो स्कूल से निकाल दिया गया

रामगढ़ी गांव में मिले तेंदुए पगमार्क , ग्रामीणों में दहशत

रामगढ़ी गांव में मिले तेंदुए पगमार्क , ग्रामीणों में दहशत

FOLLOW US ON