•  14°C  Clear
Dainik Bhaskar Hindi

Home » National » TMC leader gave shocking statement on Rupa Ganguly's statement

'रेप वाले विवादित बयान' पर रूपा गांगुली के खिलाफ FIR, BJP ने किया बचाव

BhaskarHindi.com | Last Modified - July 27th, 2017 12:53 IST

'रेप वाले विवादित बयान' पर रूपा गांगुली के खिलाफ FIR, BJP ने किया बचाव

डिजिटल डेस्क,कोलकत्ता। भारतीय जनता पार्टी की नेता रूपा गांगुली के विवादास्पद बयान देकर फंस गई हैं, उन्होंने पश्चिम बंगाल में महिलाओं के रेप पर विवादास्पद टिप्पणी की थी, जिसके बाद शनिवार को तृणमूल कांग्रेस के मंत्री ने भी पलटवार करते हुए चौंकाने वाला बयान दिया था। इस मामले में अब बीजेपी सांसद रूपा गांगुली के खिलाफ शिकायत पर नॉर्थ 24 परगना जिले में मामला दर्ज किया गया है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक निमता पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 505 और 506 के तहत केस दर्ज किया गया है और पुलिस मामले की जांच कर रही है। विपक्षी नेताओं ने भी उनके बयान की काफी आलोचना की है। विवादास्पद बयान को लेकर चौतरफा घिरने और  FIR दर्ज होने के बावजूद रूपा गांगुली अपने बयान पर डटी हुई हैं।

दरअसल राज्यसभा सांसद के शुक्रवार को दिए बयान पर पलटवार करते हुए टीएमसी नेता और मंत्री शिवन देव चटर्जी ने ने सुबह शनिवार को रूपा गांगुली से पूछा था कि बंगाल में रहते हुए उनका कितनी बार रेप हुआ? उन्होंने कहा कि अपनी मातृभमि के बारे में गांगुली ऐसा कैसे बोल सकती हैं। रूपा गांगुली के लिए यह पब्लिसिटी पाने का सस्ता तरीका है। इसकी काफी आलोचना के बाद आखिरकार राज्य में उनके खिलाफ मामला दर्ज हो गया है।

यह है विवादित बयान 

शुक्रवार को बंगाल में जारी हिंसा पर पलटवार करते हुए कहा कि रूपा गांगुली ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि टीएमसी और कांग्रेस के नेता अपनी पत्नी और बेटियों को 15 दिन के लिए बंगाल भेजकर देखें कि वो रेप से बच जाती हैं क्या ? रूपा ने कहा था कि अगर वो बंगाल में 15 दिन रहकर रेप से बच जाती हैं, तो वह अपना यह बयान वापस ले लेंगी।

बीजेपी ने किया बचाव
रूपा गांगुली के बयान के बाद बीजेपी नेता उनका बचाव करते नजर आए। बीजेपी नेता राहुल सिन्हा ने कहा कि 'लोगों को शाब्दिक अर्थ पर जाने के बजाए भावनाओं को समझना चाहिए, जो रूपा ने कहा, वह गलत नहीं है। राज्य में महिलाओं की स्थिति बेहद खराब है।'

 हिंसा की आग में झुलस रहा पश्चिम बंगाल 

पश्चिम बंगाल लगभग एक माह से हिंसा की आग में झुलस रहा है। दार्जिलिंग में जारी गोरखालैंड आंदोलन और 24 परगना के बशीरहाट में हुई सांप्रदायिक हिंसा के चलते राज्य में अशांति का माहौल है। तृणमूल कांग्रेस ने राज्य में अस्थिरता फैलाने के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था।

 

loading...
Que.

क्या नोट बंदी के फैसले से अर्थव्यवस्था ख़राब हुई ?

समाचार पर अपनी प्रतिक्रिया यहाँ दें l

एक नज़र इधर भी
loading...

FOLLOW US ON