Dainik Bhaskar Hindi

आखिर धूमा में सड़क पर क्यों उतरे व्यापारी ?

डिजिटल डेस्क,सिवनी। धूमा में देर रात डीजल भरवाने के दौरान पैसों को लेकर हुआ विवाद बढ़ता ही जा रहा है। रात में दोनों पक्षों ने जहां थाने में एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है तो सुबह व्यापारियों और ग्रामीणों ने बीजेपी नेता पर फर्जी मामला दर्ज कराने के आरोप में धूमा बंद रखा है। घटना को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है।

दरअसल धूमा निवासी बराती अहिरवार रात में अपने वाहन में डीजल भराने के लिए चौकसे पेट्रोल पंप गया था। यहां पर उसने 1480 रुपए का डीजल भरवाया। बराती ने 1400 रुपए देते हुए 80 रुपए बाद में देने की बात कही। इसी पर पंपकर्मी विनोद मरावी के साथ कहासुनी हो गई। देखते ही देखते दोनों के बीच मारपीट हो गई। इसी बीच पंप संचालक और ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हीरा चौकसे और उनका भतीजा भी पहुंच गया। बराती के साथ उनके परिचित बीनू अहिरवार और प्रमोद अहिरवार भी पहुंचे। दोनो पक्ष रात में धूमा थाने पहुंचे और शिकायत दर्ज कराई। मामले में पुलिस ने बराती अहिरवार की शिकायत पर हीरा चौकसे, उनके भतीजे आशीष चौकसे और पंपकर्मी विनोद मरावी के खिलाफ मामला दर्ज किया। वहीं आशीष की शिकायत पर बराती अहिरवार, बीनू अहिरवार और प्रमोद अहिरवार पर भी मुकदमा दर्ज किया। 

फर्जी केस दर्ज को लेकर प्रदर्शन
इधर लोगों और व्यापारियेां को जैसे ही सुबह इस घटना की जानकारी लगी तो सभी एकत्रित हो गए और चौकसे पर झूठा केस दर्ज कराने की बात कहते हुए दुकानें बंद कराना शुरू कर दी। वहीं दूसरे पक्ष के लोग भी बड़ी संख्या में एकत्रित होकर उनके साथ हुई घटना में जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग पर अड़ गए है। मौके पर पुलिस अधिकारी दलबल के साथ पहुंचे हैं और दोनों पक्षों को समझाइश दे रहे हैं।

LIFE STYLE

FOLLOW US ON