दैनिक भास्कर हिंदी: गरीबी उन्मूलन सहित कई लक्ष्यों को पूरा करने में जुटा चीन

October 23rd, 2020

हाईलाइट

  • गरीबी उन्मूलन सहित कई लक्ष्यों को पूरा करने में जुटा चीन

बीजिंग, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। नए चीन की स्थापना के बाद से ही चीनी नागरिकों के जीवन में व्यापक बदलाव देखा गया, विशेषकर अस्सी के दशक की शुरूआत से अब तक हुए परिवर्तनों ने समूची दुनिया को आश्चर्य में डाला है। बात तेज विकास की हो, शहरों के आधुनिकीकरण की या फिर पर्यावरण प्रदूषण से निपटने की मुहिम, हर क्षेत्र में चीन सरकार ने अपनी जि़म्मेदारी को बखूबी निभाने की पूरी कोशिश की है। स्वास्थ्य व शिक्षा के क्षेत्र में भी चीन ने उल्लेखनीय कार्य किया है। गरीबी उन्मूलन की दिशा में चीन जिस तेजी से काम कर रहा है, उसका कोई सानी नहीं है। चीन ने इस साल के आखिर तक देश से गरीबी को जड़ से खत्म करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

उधर हाल ही में 13वीं पंचवर्षीय योजना (2016-20) में निर्धारित लक्ष्यों और कार्यों को सुनिश्चित करने के लिए एक अहम बैठक आयोजित की गयी। जिसमें गरीबी उन्मूलन, प्रदूषण नियंत्रण और रोकथाम, प्रमुख जोखिमों को परिभाषित करने और लोगों की आजीविका में सुधार के लिए व्यापक प्रयास किए जाने पर जोर दिया गया। इसमें यह भी कहा गया कि वर्तमान पंचवर्षीय योजना के खत्म होने पर व्यापक समृद्ध समाज के निर्माण का लक्ष्य पूरा किया जाय।

गरीबी उन्मूलन की बात करें तो चीन में पिछले आठ दशकों में करीब 80 करोड़ लोग गरीबी के दलदल से बाहर निकले हैं। जो कि वैश्विक स्तर का 70 प्रतिशत है। कहना होगा कि पिछले कई वर्षों से चीन में गरीबी उन्मूलन के खात्मे के लिए गंभीरता से अभियान चलाया जा रहा है। और गरीबों को बेहतर जीवन प्रदान के लिए कोशिशें जारी हैं। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग कई बार कह चुके हैं कि विकास की दौड़ में पीछे रह गए ग्रामीण क्षेत्रों को भी खुशहाल बनाया जाय। इसके मद्देनजर वे बार-बार पिछड़े इलाकों का दौरा भी करते रहे हैं।

चीन सरकार द्वारा लगातार जारी अभियानों से यह स्पष्ट होता है कि विश्व की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यस्था में देश को सही दिशा में ले जाने के लिए किस स्तर पर काम किये जा रहे हैं। इसमें न केवल अपने नागरिकों को खुशहाल जीवन मुहैया कराने की मुहिम जारी है, बल्कि पर्यावरण प्रदूषण जैसी विश्वव्यापी समस्या से निपटने के लिए भी प्रयास किए जा रहे हैं।

लेखर: अनिल पांडेय

(साभार-चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)