आयात: पिछले तीन साल में रूस से एक फीसदी से भी कम कच्चा तेल आयात हुआ: हरदीप पुरी

March 21st, 2022

हाईलाइट

  • कुछ पश्चिमी तेल कंपनियों से तेल खरीदने की बातचीत की जा रही है

डिजिटल डेस्क, नयी दिल्ली। केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने राज्यसभा में सोमवार के यह जानकारी दी कि गत तीन वित्त वष के दौरान रूस से एक फीसदी से कम कच्चा तेल आयात किया गया।

शिवसेना की सदस्य प्रियंका चतुर्वेदी के सवाल का जवाब देते हुये पुरी ने कहा,गत तीन वित्त वर्षो के दौरान हमने रूस से एक प्रतिशत से भी कम कच्चा तेल आयात किया है। चालू वित्त वर्ष के पहले नौ माह के दौरान हमारी तेल जरूरतों का सिर्फ 0.2 प्रतिशत रूस से आयात किया गया है।

केंद्रीय मंत्री ने यह भी बताया कि भारत ने अपनी जरूरतों का 7.3 प्रतिशत कच्चा तेल अमेरिका से खरीदा है। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका का द्विपक्षीय संबंध मजबूत है।

उन्होंने बताया कि कुछ पश्चिमी तेल कंपनियों से तेल खरीदने की बातचीत की जा रही है।

पुरी ने कहा कि भारतीय तेल कंपनियों ने रूस में निवेश किया है और इसका बहुत लाभ हुआ है। रूस में किया गया 337 मिलियन डॉलर का निवेश 3.7 अरब डॉलर के राजस्व के रूप में लौटा है।

उन्होंने बताया कि हर दिन खपत होने वाले 50 लाख बैरल में से 60 प्रतिशत कच्चा तेल खाड़ी देशों से आयातित होता है। भारत ने रूस से 0.419 मिलियन मीट्रिक टन कच्चा तेल आयात किया है जो कुल आयातित तेल में एक प्रतिशत से भी कम है।

(आईएएनएस)