दैनिक भास्कर हिंदी: आईएलएंडएफएस ने समाधान में तेजी के लिए शीर्षस्तर पर जिम्मेदारियां बदली

June 4th, 2020

हाईलाइट

  • आईएलएंडएफएस ने समाधान में तेजी के लिए शीर्षस्तर पर जिम्मेदारियां बदली

नई दिल्ली, 4 जून (आईएएनएस)। आईएलएंडएफएस बोर्ड ने समूह की कंपनियों से जुड़ी समाधान प्रक्रियाओं में तेजी लाने के लिए शीर्ष स्तर पर जिम्मेदारियों में कुछ बदलाव किए हैं।

सूत्रों के अनुसार, मौजूदा समय में ऊर्जा संबंधित कामकाज देख रहे अश्विनी कुमार को सड़क कारोबार को छोड़कर बाकी समूह की संपत्ति मुद्रीकरण पहल का प्रमुख बनाया गया है। कुमार ने पवन ऊर्जा कारोबार में आईएलएंडएफएस की हिस्सेदारी का सफलतापूर्वक विनिवेश जापान की ओरिक्स कॉरपोरेशन को किया है।

आईएलएंडएफएस के प्रवक्ता ने हालांकि टिप्पणी करने से इंकार कर दिया है।

जानकार सूत्रों के अनुसार, आईएलएंडएफएस ट्रांस्पोर्टेशन नेटवर्क्‍स इंडिया लिमिटेड (आईटीएनएल) के सीईओ दिलीप भाटिया अब सड़क कारोबार की मुद्रीकरण पहल को पूरा करेंगे और बोर्ड द्वारा शुरू की गई आईएनवीआईटी पहल को भी पूरा करेंगे। आईएलएंडएफएस ने नौ सड़कों के आईएनवीआईटी निगमीकरण के लिए सेबी में आवेदन किया है और जल्द ही मंजूरी मिलने की उम्मीद है।

कंपनी सड़क संपत्ति में हिस्सेदारी के विनिवेश के लिए बातचीत के एक अंग्रिम चरण में है। सड़क संपत्ति की आईएलएंडएफएस के कुल 94,000 करोड़ रुपये के ऋण में एक बड़ी हिस्सेदारी है।

बोर्ड ने कौशिक मोदक को समूह की क्रेडिटर आदान-प्रदान जिम्मेदारियों का नेतृत्व करने के लिए नियुक्त किया है। मोदक फिलहाल आईएलएंडएफएस वित्तीय सेवा के सीईओ हैं।

सभी तीनों सदस्य -अश्विनी कुमार, दिलीप भाटिया और कौशिक मोदक आईएलएंडएफएस के नए बोर्ड के साथ काम करने वाली संचालन समिति के हिस्सा हैं और अपने संबंधित कारोबार के दैनिक संचालन को संभाल रहे हैं।