comScore

26 हजार बेरोजगार, 6 माह में सिर्फ 4 को मिली नौकरी

26 हजार बेरोजगार, 6 माह में सिर्फ 4 को मिली नौकरी

डिजिटल डेस्क  कटनी । प्रदेश भर में खुले रोजगार कार्यालय जब बेरोजगारों को नौकरी नहीं दिला पाए तो तत्कालीन भाजपा सरकार ने कुछ जिलों के रोजगार कार्यालय प्राइवेट कंपनियों को सौंप दिए। जिसमें कटनी भी शामिल है। जून माह से बेरोजगारों को रोजगार दिलाने का काम यशस्वी एकेडमी टेलेंट मैनेजमेंट को सौंपा गया। छह माह में यह संस्था जिले भर में केवल चार लोगों को रोजगार दिला पाई। जबकि 26 हजार से अधिक पंजीकृत बेरोजगार हैं। ऐसा नहीं कि जिले में प्रतिभावान युवकों की कमी है लेकिन संस्था के लोग कंपनियों के लिए मजदूर तलााशते रह गए, वह भी पूना, अहमदाबाद जैसे स्थानों पर मात्र सात से आठ रुपये महीने की पगार पर। इसका परिणाम यह निकला कि यहां से कोई युवक उन शहरा में जाने तैयार नहीं हुआ।
आफिस के रिनोवेशन में लाखों खर्च
प्राइवेट संस्था को रोजगार कार्यालय का कामकाज सौंपने के पहले शासन ने आफिस के रिनावेशन में ही हजारों रुपये खर्च कर दिए। कंपनी के स्टाफ के लिए नई टेबल, कुर्सियां खरीदी गईं एवं कमरों को पुट्टी, पेंट से चमकाया गया। यह चमक-दमक भी बेरोजगारों को आकर्षित नहीं कर सकी।
इनकी सहायता की जरूरत ही नहीं
युवकों के अनुसार जिस तरह की नौकरी रोजगार कार्यालय से दिलाई जाती है वैसे काम के लिए इनकी सहायता की जरूरत ही नहीं है। नौकरी के लिए सम्पर्क करने रोजगार कार्याल पहुंचे अभिषेक लोधी के अनुनसार पूना, अहमदाबाद, इंदौर एवं प्रदेश के बाहर सात हजार रुपये मासिक वेतन पर नौकरी करना संभव नहीं है। कुलदीप चक्रवर्ती, रामसेवक दुबे के अनुसार जिस तरह की नौकरी के लिए ऑफर किया जाता है उसके लिए तो रोजगार कार्यालय की भी  आवश्यकता नहीं है। आईटीआई टे्रंड युवकों को मजदूर की तरह भर्ती कराने का कार्य किया जा रहा है।
बाहर जाने नहीं है रुचि
यशस्वी एकेडमी टेलेंट मैनेजमेंट के सेंट्रल मैनेजर सुमित श्रीवास्तव के अनुसार यहां युवक बाहर  नहीं जाना चाहते हैं। अब तक सैकड़ों युवकों से सम्पर्क किया गया लेकिन वह जिले से बाहर काम करने इच्छुक नहीं हैं। कुछ समय पहले एक ट्रैक्टर कंपनी में 8-10 युवकों का प्लेसमेंट हुआ था, जिसमें से केवल चार ही काम कर रहे हैं।
इनका कहना है
   जिले में 26 हजार बेरोजगार युवा पंजीकृत हैं। जिला स्तर पर रोजगार मेला आयोजित करने की रुपरेखा तैयार की जा रही है। कलेक्टर ने एनआरएलएम के सहयोग से विकासखण्ड स्तर पर भी रोजगार मेला आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान द्वारा भी अगले माह पूर्व आईटीआई प्रशिक्षित युवाओं के लिये रोजगार मेला लगाया जाएगा।
- डी.के.पासी, जिला रोजगार अधिकारी
 

कमेंट करें
PGgnd