comScore

टीकमगढ़-निवाड़ी में अब 85 कोरोना संक्रमित मरीज, सिर्फ नरइया मोहल्ले में 21 पेशेंट

टीकमगढ़-निवाड़ी में अब 85 कोरोना संक्रमित मरीज, सिर्फ नरइया मोहल्ले में 21 पेशेंट

डिजिटल डेस्क टीकमगढ़ । शहर के नरइया मोहल्ला निवासी 84 वर्षीय वृद्ध की सोमवार को कोरोना संक्रमण से मौत हो गई। यह कोरोना से चौथी मौत है। जिले में टेस्टिंग के अनुसार तीसरी बताई जा रही है। मृतक सहित सोमवार को जिले में 7 नए कोरोना पेशेंट मिले हैं। शहर का नरइया मोहल्ला कोरोना हॉटस्पॉट बनता जा रहा है। इसलिए प्रशासन ने एरिया पर फोकस कर लिया है। करीब डेढ़ किमी परिधि में नरइया, रौरइया मोहल्ला, खटकियाना और उससे जुड़े क्षेत्र के 18 रास्ते सोमवार को सील कर दिए। सभी प्वॉइंट पर प्रशासन ने निगरानी के लिए टीमें तैनात की हैं। लोगों को घर से बाहर न निकलने की हिदायत दी गई है। दिनभर प्रशासनिक अधिकारी राउंड लगाते रहे। चिन्हित क्षेत्र में अब तक 21 कोविड पेशेंट मिल चुके हैं।
शहर में कोरोना संक्रमण ने विस्फोटक रूप ले लिया है। प्रतिदिन समूहों में कोविड पेशेंट सामने आ रहे हैं। सोमवार को 7 लोगों की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिनमें एक डायबिटीज पेशेंट 82 वर्षीय बुजुर्ग शामिल हैं। मौत के बाद उसमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। खासकर संक्रमण के शिकार नरइया मोहल्ला, रौरइया मोहल्ला, हिमांचल की गली, खटकियाना क्षेत्र में सामने आए हैं। इनके संपर्क में आए लोगों में संक्रमण के मामले लगातार सामने आने से कोविड पेशेंट की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और नरइया मोहल्ला कोरोना हॉट स्पॉट बनता जा रहा है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सील किए गए क्षेत्र में अब तक 21 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। इसके बाद भी कोविड पेशेंट निकलने का सिलसिला थम नहीं रहा है। नरइया और रौरइया मोहल्ला में सामुदायिक संक्रमण की स्थिति को देखते हुए प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी के निर्देश करीब डेढ़ किमी परिधि में आने वाले नइरया मोहल्ला, रौरइया मोहल्ला और खटकियाना आदि क्षेत्र को सील किया गया। इन क्षेत्र के 18 रास्तों पर बेरिकेड्स लगाकर आवागमन प्रतिबंधित किया गया है।     
नरइया-रौरइया और खटकियाना सील
कलेक्टर के निर्देश पर एसडीएम डॉ. सौरभ मिश्रा, तहसीलदार डॉ. अनिल गुप्ता ने करीब डेढ़ किमी से अधिक सर्किल में क्षेत्र को चिन्हित किया है। इसमें आवागमन के 18 रास्ते सोमवार को सील किए हैं। पवन स्वीट्स दुकान हिमांचल की गली से कटरा बाजार चौराहे व बौरी दरवाजा की तरफ 4 प्वॉइंट बनाए गए। जिनमें मीट मार्केट वाली गली, मस्जिद वाली गली, रौनक बुटीक के पास, पप्पूू लकड़ी का टॉल के पास स्थित गली को बैरिकेडिंग कर सील किया है। दलित बस्ती वाले रोड पर छोटे-छोटे पांच प्वॉइंट बनाए गए हैं। इस मार्ग में पडऩेे वाली सभी गलियों को सील किया गया है। वहीं राजमहल रोड पर चार प्वॉइंट वापस मजदूर चौराहा तक बनाए गए हैं। घुवारा के बगल वाली गली, झाम के बगल वाली गली, मुन्ना साहू के बगल वाली गली इनमें शामिल हैं।
घर से बाहर न निकलने की हिदायत, पुलिस-पटवारी और नपा कर्मी करेंगे निगरानी
कंटेनमेंट जोन में प्रशासन ने लोगों को घर से बाहर न निकलने की हिदायत दी है। 18 रास्तों पर बैरिकेडिंग करके रौरइया मोहल्ला, खटकियाना और नरइया मोहल्ला में आवागमन पर पाबंदी लगाई गई है। 18 प्वॉइंट पर निगरानी के लिए कलेक्टर ने पुलिस, नगर पालिका कर्मचारी और पटवारियों की ड्यूटी लगाई है। 24 घंटे रास्तों पर निगरानी की जाएगी। चिन्हित एरिया में करीब 10 हजार आबादी निवासरत है। इनमें व्यवसायी, दुकानदार, मजदूर, सरकारी कर्मचारी आदि सभी वर्ग के लोग शामिल हैं। प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन में निवासरत कर्मचारियों को दफ्तर न आने की छूट दी है। घर पर रहकर काम करने के निर्देश दिए हैं।
 

कमेंट करें
qgcrZ