comScore

कोरोना संक्रमण से जेलर समेत 9 की मौत

कोरोना संक्रमण से जेलर समेत 9 की मौत


डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा।  मेडिकल कॉलेज से संबद्ध जिला अस्पताल के कोविड यूनिट में भर्ती कोरोना संक्रमित जिला जेल के जेलर की सोमवार शाम को इलाज के दौरान मौत हो गई। जेलर के अलावा 8 अन्य मरीजों की मौत हुई है। जिले में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में संक्रमितों की मौत के आंकड़े सामने आए है। हालांकि मृतकों में दो बुजुर्ग कोरोना संदिग्ध माने जा रहे हैं।
स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि चार दिन पूर्व कोरोना संक्रमित मिले जिला जेल के जेलर को कोविड यूनिट में भर्ती किया गया था। रविवार रात हालत बिगडऩे पर उन्हें वेंटीलेटर पर लिया गया था। सोमवार शाम लगभग 7.30 बजे उनकी मौत हो गई। इसके अलावा शहर के शक्तिनगर, छोटी बाजार मेन रोड, सौंसर, जुन्नारदेव, अमरवाड़ा के मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं गुलाबरा के 76 वर्षीय बुजुर्ग की रविवार को नागपुर में मौत हो गई थी। प्रशासन ने बुजुर्ग को कोविड संदिग्ध मानकर प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार कराया। इसके अलावा बालाघाट के बुजुर्ग और सिवनी की महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। हालांकि इनमें जुन्नारदेव के बुजुर्ग को कोरोना संदिग्ध मानकर भर्ती किया गया था।
शहर समेत जिले में मिले 22 पॉजिटिव
सोमवार को जिले में 22 कोरोना संक्रमित मिले। इनमें संक्रमितों में बिंद्रा कॉलोनी से दो, नरसिंहपुर रोड से एक, मेडिकल कॉलेज परिसर से तीन, गोलगंज से एक महिला, श्रीवास्तव कॉलोनी से एक, शिक्षक कॉलोनी से एक, आठवीं बटालियन से एक शामिल है। इसके अलावा पांढुर्ना से दो, परासिया से दो, चौरई से दो, अमरवाड़ा से दो, सौंसर, बिछुआ और तामिया से एक-एक कोरोना संक्रमित मिले हैं। इन्हें मिलाकर जिले में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 762 तक पहुंच चुका है।
इन मरीजों ने तोड़ा दम
> जिला जेल के 57 वर्षीय जेलर।
> गुलाबरा निवासी 76 वर्षीय कोरोना संदिग्ध बुजुर्ग।
> सौंसर निवासी 70 वर्षीय बुजुर्ग।
> जुन्नारदेव निवासी 74 वर्षीय कोरोना संदिग्ध बुजुर्ग।
> छोटीबाजार मेन रोड निवासी 59 वर्षीय बुजुर्ग।
> अमरवाड़ा निवासी 70 वर्षीय बुजुर्ग।
> शक्तिनगर निवासी 64 वर्षीय बुजुर्ग।
> सिवनी निवासी 43 वर्षीय महिला।
> बालाघाट निवासी 57 वर्षीय बुजुर्ग।
जिला जेल के डॉक्टर समेत सात पॉजिटिव
जिला जेल में तेजी से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है। पहले यहां से जेलर भी पॉजिटिव आ चुके हैं। जेल अधीक्षक यजुवेन्द्र वाघमारे ने बताया कि सोमवार को जिला जेल के डॉक्टर समेत सात विचाराधीन बंदी पॉजिटिव आए हैं। इनमें चौरई के दो, चांद का एक, कुंडीपुरा का एक, सिवनी के कुरई का एक और पांढुर्ना का एक विचाराधीन बंदी शामिल है। हालांकि जेल अधीक्षक की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। उन्होंने दोबारा अपना स्वाव सेंपल जांच के लिए दिया है।  
नागपुर में भी कई पॉजिटिव करा रहे इलाज
शहर समेत सौंसर, पांढुर्ना के कई लोग नागपुर में कोरोना का इलाज करा रहे हैं। इनमें से अधिकांश लोगों ने कोरोना के लक्षण सामने आने पर सीधे नागपुर जाकर अपनी जांच कराई और निजी अस्पताल में भर्ती होकर इलाज करा रहे हैं। रविवार को शहर के एक कोरोना संक्रमित व्यापारी की नागपुर में इलाज के दौरान मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि कई कोरोना संक्रमितों की हालत गंभीर है।

कमेंट करें
KNq1E