आजमगढ़: हार के डर से आजमगढ़ से भाग कर करहल गये अखिलेश: मायावती

March 1st, 2022

डिजिटल डेस्क, आजमगढ़। समाजवादी पार्टी (सपा) को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की बी टीम करार देते हुये बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव हार के डर से आजमगढ़ छोड़ कर करहल भाग गये है और वहां भी वह अपने बुजुर्ग पिता का सहारा लेकर चुनाव जीतना चाहते हैं।
जिले के संविदा गांव में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुये उन्होने कहा कि भाजपा और सपा काे सत्ता में आने से हर कीमत पर रोकना होगा ताकि प्रदेश की जनता को जातिवादी संकीर्ण मानसिकता वाली अहंकारी और तानाशाही सरकार से मुक्ति मिल सके। उन्होने भरोसा जताया कि केवल बसपा ही सभी सीटों पर नंबर वन रहेगी और उत्तर प्रदेश में पांचवीं बार सरकार बनायेगी।
उन्होने कहा कि बीएसपी की सरकार बनाकर बाबा साहब भीमराव अंबेडकर तथा मान्यवर कांशीराम के सपने को साकार करना है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपना मैदान ही छोड़ दिया क्योंकि आजमगढ़ में वह चुनाव बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन से जीते थे ,अब उन्हें पता है कि अब वह चुनाव नहीं जीत सकते हैं । इसलिए उन्होंने विधानसभा का चुनाव आजमगढ़ से ना लड़कर अपने पिता की सीट करहल से चुनाव लड़ रहे हैं और वहां भी अपने बूढ़े पिता का सहारा लेकर चुनाव जीतना चाहते हैं उन्होंने बार-बार अपने मतदाताओं को आगाह किया कि समाजवादी पार्टी को वोट देने का मतलब कि भाजपा को वोट देना ।
मुस्लिम मतों को अपने पक्ष में करने के लिए उन्होने कहा “ 1977 से 2003 के बीच कई ऐसे अवसर आए जब मुलायम सिंह यादव की भाजपा से नजदीकी दिखी । सपा के लोग यह भी दुष्प्रचार कर रहे हैं कि जहां पर बसपा को हराना है और समाजवादी पार्टी कमजोर है तो वहां सपा के लोग अपना वोट भाजपा को दे दें । ऐसे में यहां के मुस्लिम समुदाय के लोगों को जवाब देना जरूरी है।”
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि आजमगढ़ मंडल में उपस्थित यह भीड़ इस बात की गवाह है कि यहां बसपा के प्रत्याशी ही चुनाव जीतेंगे। उन्होंने मतदाताओं को आगाह किया कि किसी के बहकावे में आने की जरूरत नहीं है। सीधे वोट बसपा को देने की जरूरत है। उन्होंने समाजवादी पार्टी को भाजपा की बी टीम बताया। कांग्रेस पर भी दलितों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुये उन्होने कहा “ दलितों के साथ कोई घटना होने पर प्रियंका पहुंचकर उन्हें गुमराह करती हैं कि आप की नेता मायावती आपके यहां नहीं आती हैं । उन्होंने प्रियंका से सवाल किया “ वह कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछे कि वह किन मौकों पर पहुंचती हैं ,तो मैं भी एक पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष हूं हमारे पार्टी के नेता दलितों के ऊपर अत्याचार होने पर प्रदेश के कई प्रभारी पहुंच जाते हैं ।वह प्रियंका की तरह नाटक बाजी नहीं करते।”
सुश्री मायावती ने कहा कि मतदाताओं को जातिवादी मीडिया और दोहरे चरित्र रखने वाले राजनीतिक दलों से सावधान रहने की जरूरत है। बसपा से जो लोग दूसरे दलों में गए हैं, खासकर समाजवादी पार्टी में। जिन लोगों ने दामन पकड़ा है उन सब लोगों का सपना चकनाचूर हो जाएगा। प्रदेश में अमन चैन कायम करने के लिए उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी की सरकार बनाना जरूरी है ताकि अन्याय अपराध व भ्रष्टाचार को रोका जा सके।
बसपा के खिलाफ बोलने वाले खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे के तर्ज पर काम कर रहे हैं ,और बीएसपी के लोगों को गुमराह कर रहे हैं कि बीएसपी भाजपा की बी टीम है, इसमें रत्ती भर सच्चाई नहीं है वास्तविकता यह है कि समाजवादी पार्टी ही भाजपा की बी टीम है। । उन्होंने अपने मतदाताओं से कहा कि सभी मतदाता सुबह सुबह उठकर सभी महिला हो या पुरुष पहले जाकर अपना मत दे ।
बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी ऐलान किया कि वह भी कर्मचारियों की पुरानी पेंशन को बहाल करेगी तथा धरना प्रदर्शन करने वालों की समस्याओं के निदान के लिए एक आयोग का गठन होगा, जहां पर सही का निर्णय कर आयोग द्वारा फैसला लिया जाएगा ।उन्होंने मतदाताओं से कहा कि साम-दाम-दंड-भेद सभी से सावधान रहने की जरूरत है ।
उन्होंने कहा कि मतदाता मीडिया के ओपिनियन पोल पर विश्वास ना करें यह गलत तरीके से गुमराह किया जाता है ।उन्होंने 2007 के विधानसभा चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि ओपिनियन पोल बसपा के खिलाफ था लेकिन जब रिजल्ट आया तो सभी लोग आश्चर्यचकित हो गए। बसपा करने में विश्वास करती है कहने में नहीं इसीलिए बसपा अपना कोई घोषणा पत्र जारी नहीं करती । बसपा सुप्रीमो ने कहा कि प्रदेश में सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय के लिए बसपा की सरकार बनाना जरूरी है।
अपने कार्यकाल की चर्चा करते हुए कहा कि बसपा की जब भी सरकार थी तो गरीबों और भूमिहीनों को बड़े पैमाने पर भूमि और मकान बनाकर दिए गए । अंत में उन्होंने मतदाताओं का अभिवादन करते हुए आजमगढ़ मंडल की सभी सीटों पर बसपा के प्रत्याशियों को जिताने की अपील किया।