दैनिक भास्कर हिंदी: अशोकनगर: करीला मेला की तैयारियों संबंधी बैठक सम्‍पन्‍न कलेक्टर ने कहा करीला मेला की व्यवस्थाएं बेहतर हों

February 11th, 2021

डिजिटल डेस्क, अशोकनगर। मॉ जानकी मंदिर करीला धाम जिला अशोकनगर में आगामी 02 अप्रैल रंगपंचमी पर लगने वाला विशाल तीन दिवसीय वार्षिक मेला की समस्त तैयारियां एवं व्‍यवस्‍थाएं बेहतर हो यह सुनिश्चित किया जाए। इस आशय के निर्देश कलेक्टर श्री अभय वर्मा द्वारा करीला परिसर स्थित मीटिंग हॉल में आयोजित करीला मेला की तैयारियों संबंधी बैठक के दौरान अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि मॉ जानकी करीला धाम में आने वाले श्रद्धालुओं की सुविधाओं का विशेष ध्यान रखते हुए बेहतर से बेहतर व्यवस्थाएं हो इस पर सभी अधिकारी विशेष ध्‍यान दें। संबंधित अधिकारियों को मेला व्यवस्थाओं के संबंध में सौंपे गए दायित्‍वों का निर्वहन कर समय से कार्य पूर्ण करें। उन्‍होंने मेला में पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने तथा सभी जल स्‍त्रोतों में ब्‍लीचिंग पाउडर डलवाये जाने तथा पानी की टेस्टिंग कराये जाने के निर्देश कार्यपालन यंत्री लो.स्वा.यां.विभाग को दिए। शासकीय विभागो के पाण्डाल, पार्किग, विभिन्न कार्यालय, ड्रापगेट, बैरियर पर भी पानी की उपलब्धता बनी रहें।

कलेक्टर ने निर्देशित किया कि मेले में लगने वाले 250 टेंकरो के लिए स्‍थान चिन्हित किये जाने तथा टेंकरों की व्‍यवस्‍था कराने जाने के निर्देश सीईओ जनपद पंचायत को दिए। करीला माता मंदिर परिसर में पर्याप्‍त लाईट की व्‍यवस्‍था, लाईट की सुरक्षा व्‍यवस्‍था एवं निगरानी के निर्देश विद्युत विभाग को दिए। साथ ही प्रत्‍येक सेक्‍टर में सुपरवाईजर की डयूटी लगाये जाने के निर्देश दिए। बैठक में करीला धाम पहुंच मार्गो की सड़कों के मरम्‍मत कार्य समय पर कराये जाने के निर्देश संबंधित विभागों को दिए गए। मेले के दौरान यात्रियों के आने जाने के लिए बसों की व्‍यवस्‍था तथा अस्‍थाई परमिट जारी किये जाने एवं ओवर लोडिंग रोकने के निर्देश जिला परिवहन अधिकारी को दिए।

कलेक्टर ने निर्देश दिए कि मेला में आने वाले वाहनो की पार्किंग व्यवस्था पृथक-पृथक की जाए। अशोकनगर-बेलई तिराहा-से करीला मार्ग से आने वाले वाहनो हेतु पार्किंग व्यवस्था पूर्व वर्षानुसार कराई जाए। अतः पार्किंग स्थल से ही एक पृथक वायपास इस रूट के वाहनो को वापिस अशोकनगर की ओर भेजने हेतु पार्किंग स्थल से ग्राम जमुनिया-पीपलखेड़ा मुख्यमंत्री सड़क मार्ग का उपयोग किया जाए। इसी प्रकार बंगला चौराहा बामोरीशाला मार्ग के वाहनो की पार्किंग इसी मार्ग पर पहाड़ी के नीचे पूर्व वर्ष की भांति नियत स्थल पर की जाए। बामोरीशाला क्षेत्रान्तर्गत आने वाली पार्किंग स्थल की व्यवस्था होगी। उन्होंने निर्देश दिए कि पार्किंग स्थल पर पर्याप्त प्रकाश, पानी, लाउडस्पीकर तथा फायर ब्रिगेड की व्यवस्था की जाए। मेले में अस्‍थाई शौचालय बनाये जाने के निर्देश कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा को दिए। साथ ही चलित शौचालय की व्‍यवस्‍था हेतु जिला शहरी विकास अभिकरण विभाग को निर्देशित किया। मेले के दौरान साफ सफाई व्‍यवस्‍था कराये जाने तथा प्रत्‍येक नगरपालिका,नगरपरिषद से सफाई कर्मियों की डयूटी लगाये जाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने निर्देशित किया है कि लोक निर्माण विभाग द्वारा बैरीकेटिंग का कार्य समय से पूर्ण करा लिया जाए। निर्धारित ड्राप गेट लगाये जाएं। मंदिर पर पटवारियों, कोटवारों की ड्यूटी लगाई जावे जिस से चढ़ोत्तरी व प्रसाद आदि की व्यवस्था सुनिश्चित रखी जा सके। मेले में लाइट एवं जनरेटर की समुचित व्यवस्था की जाए। यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए ड्रॉप गेट बनाए जाए। मेले परिसर में निगरानी के लिए 32 सीसीटीवी कैमरे लगाए जायेगें। साथ ही प्रोजेक्टर लगाया जाए। मेले में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए एलईडी मंदिर के बाहर लगाई जाएंगी। एलईडी के माध्यम से भी श्रद्धालु दर्शन कर सकते हैं। कंट्रोल रूम के पास खोया पाया केन्‍द्र संचालित किया जाए। जिससे मेले में गुम हुए बच्‍चों को परिजनों से मिलवाया जा सके। उन्‍होंने निर्देश दिये कि करीला माता मंदिर के वालेंटियर की सूची पुलिस को उपलब्‍ध करा दी जाए। जिससे उन्‍हें विशेष पुलिस का दर्जा दिया जा सके।

अवैध शराब की आपूर्ति पर कड़ा नियंत्रण रखे जाने के निर्देश जिला आबकारी अधिकारी को दिए। ऐसे संभावित स्थानो को चिन्हित कर लिया जावे एवं आवश्‍यकतानुसार पर्याप्त आबकारी जवान एवं अधिकारियो की तैनाती की जावे। मेला में जन सामान्य को सूचना देने के लिए ध्वनि विस्तारक सिस्टम प्रभावी हो ताकि समय पर सूचना दी जाती रहें। ध्वनि विस्तारक यंत्र इस बार मंदिर परिसर, मेला, दोनो पार्किंग स्थल पर पृथक-पृथक माईक सिस्टम लगाए जाए ताकि वहां भी सूचनाए सुनी जा सके।