दैनिक भास्कर हिंदी: नर्मदा की स्वच्छता को लेकर बच्चे भी चला रहे जागरूकता अभियान

May 31st, 2018

डिजिटल डेस्क, मंडला। नर्मदा नदी के सरंक्षण और स्वच्छता को लेकर बच्चो में भी जागरूकता आई है। घाटों पर पॉलीथीन, शैम्पू, साबुन का प्रयोग नहीं करने लोगों में जागरूकता लाने के लिए कलेक्टर द्वारा स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में छात्रा अर्चना चौकसे 14 वर्ष अपने 8 वर्षीय भाई बाबू के साथ प्रतिदिन नर्मदा तट पर शैम्पू, साबुन और पॉलीथिन के उपयोग करने वालो को रोकती व टोकती है।

आम आदमी से करते हैं अपील
इसके साथ ही ये बच्चे आमजनों से अपील करते है कि वह साबुन सोडा शैम्पू पालीथिन आदि सामग्री को नर्मदा तट से दूर रखें। जीवन दायिनी कलकल बहती इस मेकलसुता का जल सदा निर्मल रहे और नर्मदा तट सदा स्वच्छ और सुंदर रहे, इसके लिए हर व्यक्ति को ये बच्चे तरह - तरह के उदाहरण देकर प्रेरित भी करते है। अर्चना का कहना है कि नर्मदा में आने वाले लोग घर से ही पॉलीथीन साबुन स्नान के लिए नहीं लाए और आसपास से खरीदें भी नहीं। इसमें आमजन भी अन्य लोगों की इसकी जानकारी दें जिन्हें जानकारी नहीं है।

मदद के लिए संगठनों ने बढ़ाया हाथ
यह सकारात्मक पहल करने से लोगों में जागरुकता आएगी। नर्मदा का नीर साफ स्वच्छ अविरल होगा। इसके अलावा  नगर पालिका, स्काऊट, NSS, इको क्लब के छात्रों के द्वारा भी समय समय पर नर्मदा तट पहुंचने वाले लोगों को जागरूक किया जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत जहां नदी तटों की सफाई का ध्यान रखा जा रहा है। वहीं शहर को स्वच्छ बनाने पर भी जोर दिया जा रहा है। लोगों को इस बात की समझाइश दी जा रही है, कि स्वच्छता में ही सेहत का रात छुपा है यदि हमारे आसपास का वातावरण साफ सुधरा रहेगा तो बीमारियां भी हमारे पास नहीं आएंगी । जीवन दायिनी कलकल बहती इस मेकलसुता का जल सदा निर्मल रहे और  नर्मदा तट सदा स्वच्छ और सुंदर रहे इसके लिए हर व्यक्ति को ये बच्चे तरह - तरह के उदाहरण देकर प्रेरित भी करते है।