दैनिक भास्कर हिंदी: 10वीं की छात्रा के साथ घर में घुसकर दुराचार, मामला दर्ज

June 16th, 2018

डिजिटल डेस्क, टीकमगढ़। टीकमगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम अस्तौन में एक कक्षा 10 वीं की छात्रा के साथ जबरन उसके घर में घुसकर दुराचार किए जाने की घटना सामने आई है। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी ने पीड़िता को इस बात को गुप्त रखने और किसी से कहने पर जान से मारने की धमकियां दी गई। तीन दिन बाद जब पीड़िता के माता पिता घर पहुंचे तो उसके द्वारा उन्हें सारे घटना क्रम से अवगत कराया और फिर परिजनों के साथ कोतवाली पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई है।

दी जान से मारने की धमकी
पुलिस ने नामजद आरोपी के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध कर पड़ताल आरंभ कर दी है। वहीं पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। इस संबंध में एसआई रागिनी कटारे ने बताया कि पीड़िता ने परिजनों के साथ पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई की वह 12जून को दिन में 10 बजे अपने घर पर खाना बना रही थी। इसी बीच गांव का ही एक युवक उसके घर पहुंचा और दरवाजे बंद कर उसके साथ दुराचार की घटना को अंजाम दिया। इस बात की जानकारी किसी को भी देने पर पीड़िता और उसके परिजनों को जान से मारने की धमकियां दी गई थी। पीड़िता के माता पिता जब घर पहुंचे तो उसके द्वारा कोतवाली पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पुलिस ने आरोपी पर धारा 376, 506,450 आईपीसी एवं 3/4 पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। आरोपी भी नाबालिग बताया जा रहा है।

बदमाशों का तांडव
सशस्त्र बदमाशों ने एक घर पर धावा बोलकर पूरे परिवार को बेरहमी से पीटने के बाद नगदी-गहने लूट लिए। इस वारदात की खबर तडक़े पुलिस को मिली तब तक बदमाश भाग चुके थे। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक कोदूलाल सोधिया पुत्र भगवानदीन 68 वर्ष ने गांव से बाहर खेत में अहरी बना रखी है जहां वह पूरे परिवार के साथ रहता है। बीती रात को खाना खाकर सभी लोग सो गए।

देर रात करीब 3 बजे पत्थर बाजी होने से सभी की नींद खुल गयी। इसी दौरान 6-7 नकाब पोश बदमाशों ने कच्चे घर की दीवार पर सेंध लगाकर अंदर घुस आए और वृद्ध समेत उसकी पत्नी राजू देवी 55 एवं बहू पूजा पति शीलू सोधिया 25 वर्ष को बंधक बनाकर पीटने लगे। कुछ देर तांडव करने के बाद तीनों को कमरे में बंद कर दिया और लोहे की पेटी उठाकर चंपत हो गए। घर से कुछ दूर जाकर पेटी का ताला तोड़कर 50 हजार नगदी, सोने के 6 लाकेट, मंगलसूत्र, 2 अंगूठी, बेदी,कान के टप्स, चांदी की पायल और करधन निकाल लिए।

बदमाशों के जाने के काफी देर बाद कोदूलाल ने सूरत में रहने वाले बेटे को फोन किया साथ ही पुलिस को सूचित किया। जिस पर डायल 100 टीम मौके पर पहुंची लेकिन तब तक बदमाश रफू चक्कर हो चुके थे। चोरी की गयी व उसमें रखे कुछ सामान शुक्रवार सुबह तलाश के दौरान खेत में पड़ा मिला।