रामनगर नर्मदा पुल से गिरी कार, भाजपा महामंत्री के भाई समेत दो की मौत

Car falls from Ramnagar Narmada Bridge, two dead, including brother of BJP General Secretary
रामनगर नर्मदा पुल से गिरी कार, भाजपा महामंत्री के भाई समेत दो की मौत
रामनगर नर्मदा पुल से गिरी कार, भाजपा महामंत्री के भाई समेत दो की मौत

डिजिटल डेस्क मंडला। कोतवाली थाना और हिरदेनगर पुलिस चौकी के सीमा क्षेत्र में गत रात्रि रामनगर से मंडला आ रहे कार सवार नर्मदा पुल पार करते समय हादसे के शिकार हो गए।  कार चालक के स्टेरिंग से संतुलन खो जाने से सीधे कार करीब अठारह फिट की ऊंचाई से नर्मदा नदी में जा गिरी और पलट गई। इसमें सवार दो लोगो की मौके पर दम घुटने से  मौत हो गई। हादसे के बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए। पुलिस के पहुंचने पर करीब तीन घंटे के बाद ग्रामीणों की मदद से शव को बाहर निकाला गया है।
रामनगर से लौट रहे थे 
 बताया गया है कि मंडला भाजपा जिला मंत्री प्रफुल्ल मिश्रा के छोटे भाई प्रशांत मिश्रा पिता शिवकुमार मिश्रा निवासी आजाद वार्ड अपने दोस्त नरेन्द्र हरिनखेड़े निवासी बड़ी खैरी के साथ किसी काम से कार क्रमांक एमपी 20एफ 8252में सवार होकर रामनगर की ओर गए हुए थे। रात्रि करीब दस बजे उसी कार से मंडला की ओर आठ सौ मीटर लंबा नर्मदा पुल पार करते हुए आ रहे थे कि आधे से अधिक पुल से गुजरने के बाद चालक  नरेन्द्र का कार के स्टेयरिंग से नियंत्रण हट गया। जिससे कार बाई ओर मुड़ी और पुल से कार सीधे नर्मदा नदी में गिर गई। कार पलट जाने से बचाव के सारे दरवाजे बंद हो गए। कार में पानी भर जाने और गेट नहीं खुलने के कारण उनकी दम घुटने से मौत हो गई। इसी दौरान एक ग्रामीण ने पुल के नीचे नदी में कार गिरी देखी और रामनगर पहुंचकर ग्रामीणों को हादसाकी जानकारी दी । ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी और मौके पर बचाव के लिए गए लेकिन कार सवार दोनो युवको की तब तक मौत हो चुकी थी। पुलिस के पहुंचने के बाद शव को बाहर निकालने के लिए मशक्कत की गई। होमगार्ड अमला को बुलाया गया। इसके पहले ही गांव के गुड्डा बरमैयार, अजय चौरसिया, सौरभ बरमैया, गन्नू बरमैया नदी पर उतर गए और शव को बाहर निकाला गया। इसके बाद क्रेन की मदद से कार निकाली गई। नहीं थी रैलिंग
बताया गया है कि नर्मदा समेत अन्य नदी नालो में लोगो की सुरक्षा के लिए रैलिंग लगाई जाती है। जिससे इस प्रकार की घटनाओं को रोका जा सके। यहां गत पखवाड़ा हुए हुई जोरदार बारिश से नर्मदा समेत अन्य नादियां उफान पर रही। बाढ़ के कारण पुल  डूब गए थे। बारिश को देखते हुए रामनगर पुल से पीडब्लूडी कर्मी के द्वारा रैलिंग निकाल ली गई थी लेकिन बारिश थमने के बाद इसे दोबारा नहीं लगाया गया। एक सप्ताह से जिले में हल्की बूंदाबादी के बाद लगातार बारिश नहीं हुई। पीडब्लूडी ने किसी ग्रामीण को इसकी जिम्मेदारी दी लेकिन लापरवाही के चलते कार सवारो को अपनी जान गंवानी पड़ी।
 

Created On :   23 Sep 2019 2:06 PM GMT

Tags

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story