दैनिक भास्कर हिंदी: भारतीय मजदूरों को काम पर न लेने का मामला - केन्द्रीय इस्पात मंत्री ने जताई नाराजगी -चीनी कंपनी को भी नोटिस

June 20th, 2020

डिजिटल डेस्क बालाघाट । मेग्रीज ओर इंडिया लिमिटेड़ की गुमगांव और बालाघाट खान में कार्यरत चीनी कंपनी चाईना कोल 3 के द्वारा भारतीय श्रमिकों को काम पर वापस नही लिये जाने को लेकर केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार फग्गन सिंह कुलस्ते ने नाराजगी जताई है। भास्कर से इस संबंध में चर्चा में उन्होने बताया की इन श्रमिकों को तत्काल काम में वापस लिये जाने के संबंध में वे निर्देश जारी करेंगे। उन्होने भास्कर से हुई विशेष चर्चा में कहा की इस मामले में वे मॉयल के सी.एम.डी. से चर्चा करेगे। साथ ही संबंधित कंपनी को भी नोटिस जारी किया जायेगा। 
विदित हो की मैग्रीज ओर इंडिया लिमिटेड की बालाघाट खान में चीनी स्वामित्व वाली उक्त कंपनी द्वारा 250 करोड़ की लागत से अंडरग्राऊंड शाफ्ट के निर्माण का कार्य किया जा रहा है। जिसमें 60 से अधिक भारतीय श्रमिक मार्च 2019 से कार्यरत थे। लेकिन इन श्रमिको को कोविड़ के दौरान किये गये लॉक डाउन के बाद जब कंपनी ने सप्ताह भर पहले काम शुरू किय तो दोबारा काम पर नही लिया। जिसके बाद से ही श्रमिक पूून: काम पर लिये जाने की मांग कर रहे थे। उधर मॉयल प्रबंधन से चर्चा के बाद भी चीनी कंपनी चाईना कोल 3 ने इन श्रमिकों को काम पर बहाल करने से इंकार कर दिया था। जिसको लेकर आज मामला केन्द्रीय इस्पात मंत्री के संज्ञान में आने के बाद उन्होने इस पर कड़ी नाराजगी जाहिर की है।
मॉयल मुख्यालय ने स्थानिय प्रबंधन से तलब की विस्तृत रिपोर्ट
उधर इस मामले में मॉयल मुख्यालय ने भी अपने स्थानिय प्रबंधन से इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट तलब की है। इस संबंध में मॉयल के डी.जी.एम. व्ही. के. परिधा ने बताया की उनके द्वारा इस मामले में जिला प्रशासन को लिखित जानकारी सौपी गयी है। साथ ही मॉयल के मुख्यालय को भी विस्तृत रिपोर्ट भेजी जा रही है। उन्होने बताया की श्रमिको को तत्कालिक राहत देने के लिये कलेक्टर दरो पर दूसरी कंपनी में काम करने हेतु प्रबंध किया गया था। लेकिन श्रमिक पून: चाईना कोल 3 में ही काम दिलाने की मांग पर अडे है। उनका प्रबंधन कोरोना संक्रमण के कारण श्रमिको को काम पर बहाल करने तैयार नही है। जिसको लेकर विस्तृत रिपोर्ट मॉयल मुख्यालय को भेजी जा रही है। जहां इस प्रकरण में अग्रिम कार्यवाही हेतु निर्णय लिया जायेगा।
इनका कहना है...
 
श्रमिको को तत्काल काम पर बहाल करने के निर्देश जारी किये जाऐंगे। साथ ही श्रमिको को काम पर नही रखने को लेकर मॉयल के सी.एम.डी. से जवाब मांगा जाएंग। साथ ही साथ मंत्रालय के माध्यम से संबंधित कंपनी को भी नोटिस जारी किया जा रहा है।
फग्गन सिंह कुलस्ते, केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री, स्वतंत्र प्रभार