comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

मंगलनगर आरओबी, कटनी रिवर फ्रंट कुठला-तिलियापार बायपास, हवाई पट्टी के प्रस्तवों पर सीएम ने लगाई मोहर

मंगलनगर आरओबी, कटनी रिवर फ्रंट कुठला-तिलियापार बायपास, हवाई पट्टी के प्रस्तवों पर सीएम ने लगाई मोहर


डिजिटल डेस्क कटनी । कटनी को महानगर बनाने प्रस्तावित योजनाओं पर शनिवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मोहर लगा दी। अपनी नई पारी में पहली बार जिले के प्रवास पर आए मुख्यमंत्री ने शहर के विकास के लिए बनाए गए प्लान में शामिल मंगलनगर-साउथ स्टेशन आरओबी, कटनी रिवर फ्रंट, कुठला-तेलियापार बायपास एवं हवाई पट्टी सहित आधा दर्जन से अधिक प्रस्तावों पर सहमति जताई। मुख्यमंत्री ने प्रस्तावित योजनों को सर्वे कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान एवं प्रदेश भाजपाध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने स्थानीय एक होटल में आयोजित कार्यक्रम में शहर विकास के लिए जनप्रतिनिधियों, उद्योगपतियों एवं अधिकारियों से चर्चा की। इस दौरान प्रदेश के खनिज मंत्री बृजेन्द्र प्रतापसिंह, विधायक संदीप
जायसवाल, संजय पाठक, प्रणय पांडेय, संभागायुक्त बी.चंद्रशेखर, आईजी भगवत सिंह चौहान, कलेक्टर प्रियंक मिश्रा, पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी सहित अन्य जनप्रतिनिधि, शहर के उद्योगपति एवं विभिन्न विभागों अधिकारी उपस्थित थे। विकास कार्यों की समीक्षा में दैनिक भास्कर द्वारा उठाए गए मुद्दों पर चर्चा केन्द्रित रही और नगर निगम के पांच वर्षीय प्लान में ज्यादातर वही कार्य शामिल थे।
तीन निकायों को बायपास की सौगात-
मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों की समीक्षा में बरही, कैमोर एवं विजयराघवगढ़ नगर परिषदों के लिए बायपास के प्रस्ताव को भी स्वीकार किया। कैमोर में सीमेंट प्लांट में पॉवर प्लांटों से आने वाले राखड़ एवं खनिज के वाहनों की धमा चौकड़ी से तीनों निकायों की यातायात व्यवस्था प्रभावित होती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि बायपास बनने से भारी वाहन उक्त नगरों में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। मुख्यमंत्री ने कैमोर में आईटीआई खोलने पर भी सहमति दी।
महिलाओं की आर्थिक तरक्की पर जोर-
मुख्यमंत्री ने होमगार्ड मैदान झिंझरी में आयोजित सभा में कहा कि महिलाओं के आर्थिक  विकास का संकल्प दोहराया। उन्होने बालाघाट के राइस मिल खरीदने वाले महिला स्व सहायता समूह की चर्चा करते हुए कि महिला स्वसहायता समूहों को बैंक लिंकेज कराया जाएगा। बैंक से मिलने वाले कर्ज पर महिला समूहों को केवल चार प्रतिशत ब्याज देना होगा, अंतर का ब्याज प्रदेश सरकार वहन करेगी। मुख्यमंत्री ने सभा स्थल में  कन्यापूजन कर विभिन्न विभागों के 39 करोड़ 78 लाख के 81 विकास कार्यों का भूमिपूजन एवं 14 करोड़ 78 लाख रुपये की लागत के 9 विकास कार्यों का लोकार्पण किया।
आमसभा में मुड़वारा विधायक संदीप जायसवाल ने फारेस्ट खेल मैदान के उन्नयन एवं गल्र्स कालेज में आडीटोरियम बनाने की मांग मुख्यमंत्री के सामने रखी।
माइनिंग का हब बनेग कटनी-
मुख्यमंत्री ने मीडिया से चर्चा करते हुए कटनी शहर के विकास पर चर्चा की एवं कहा कि कटनी माइनिंग का गढ़ है। यहां की धरती को प्रकृति ने खनिजों का अकूत भंडार दिया है। कटनी में खनिजों के दोहन की अपार संभावनाएं हैं। यहां कच्चे माल की प्रोसेसिंग की यूनिटें लगाने प्रोत्साहित किया जाएगा। हालांकि पत्रकार वार्ता में जब मीडिया कर्मियों ने सवाल पूछे तो मुख्यमंत्री किनारा करके निकल गए।
सीवर लाइन में फटकार-
मुख्यमंत्री ने अमृत योजना के तहत स्वीकृत सवा सौ करोड़ के कार्य तीन साल बाद भी पूरे नहीं होने पर नगर निगम के अधिकारियों को फटकार लगाई। सीएम ने खासकर 2017 से चल रहे सीवर लाइन के कार्य में अब तक मात्र 30 प्रतिशत काम होने पर नाराजगी जताते हुए तत्कालीन निगमायुक्त के खिलाफ कार्यवाही का प्रस्ताव भेजने कलेक्टर को निर्देश दिए। वहीं वर्तमान निगमायुक्त को निर्माण कार्यों में तेजी लाने एवं लेटलतीफी करने वाले ठेकेदारों के टेंडर निरस्त करने के निर्देश भी दिए।
गरीब के घर किया भोजन-
मुख्यमंत्री एवं प्रदेश भाजपाध्यक्ष ने झिंझरी निवासी राजेन्द्र श्रीवास के घर दोपहर का भोजन किया। यहां मुख्यमंत्री ने श्रीवास की पुत्री के सिर
पर हाथ रखकर आशीर्वाद दिया।
जिले के इन प्रस्तावों को सीएम ने स्वीकारा-
-मुख्यमंत्री नगर निगम के पांच वर्षीय प्लान के इन प्रस्तावों को स्वीकृति दी।
-कटनी को सडक़, सीवरेज प्लांट, पेयजल, पार्किंग, रोजगार से संबंधित
704 करोड़ की पंचवर्षीय कार्ययोजना लागू की जायेगी।
-अमीर गंज तालाब का सौंदर्यीकरण कराया जायेगा।
-पर्यटन विकास के अंतर्गत कटनी रिवर फ्रंट के विकास की 28 करोड़ लागत
की योजना को और व्यापक स्वरूप दिया जाकर सौंदर्यीकरण के कार्य किये
जायेंगे।
-कटायेघाट की पुलिया पर नवीन पुल के लिए 3 करोड़ लागत से चौड़ीकरण एवं पुल के कार्य किये जायेंगे।
-आजाद चौक में लगभग 2 करोड़ के अधो संरचानात्मक कार्य होंगे।
-कटनी से शहडोल मार्ग के लिये बायपास रिंग रोड का निर्माण किया जायेगा।
-मुख्यमंत्री अधोरसंरचना निर्माण के अंतर्गत कटनी जिले में एक बेहतर
बस स्टैंड का निर्माण किया जायेगा ।
-टूरिज्म और औद्योगिक विकास के लिए स्थानीय प्रशासन को जमीन का चयन और चिन्हांकन करने के निर्देश दिये गये हैं।
-सुरक्षित और सुगम यातायात के लिए लगभग 50 करोड़ की लागत से साधुराम और टीसी बजान में स्थान चिन्हांकित कर निर्माण कार्य कराया जायेगा।
-कुठला से तेलियापार होते हुए छह करोड़ की लागत का बायपास।
-नागरिकों की सुविधा के अनुसार कटनी साउथ स्टेशन और छापरवाह इलाके को जोडऩे के लिए आरओबी का निर्माण कराया जायेगा ताकि कटनी के तीनों मुख्य रेल्वे स्टेशन आपस में जुड़ सकें।
-कैमोर और कटनी की औद्योगिक आवश्यकताओं के अनुसार स्थानीय व्यक्तियों
को कौशल उन्नयन और संबंधित ट्रेड का प्रशिक्षण देकर रोजगार योग्य बनाया
जायेगा।
-कटनी के बांधवगढ़ और विजयराघवगढ़ क्षेत्र में महानदी क्षेत्र के कोनिया टापू का विकास पर्यटन दृष्टि से किया जायेगा।
-सफाई में शहर को 7 स्टार बनाने कहा।

कमेंट करें
ykREW