दैनिक भास्कर हिंदी: प्रेम प्रसंग के चलते की थी युवक की गला रेत कर निर्मम हत्या, आरोपी गिरफ्तार

December 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, टीकमगढ़। 22 दिसंबर की रात शहर के नूतन बिहार कॉलोनी में हुए हत्याकांड के आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हत्या के बाद आरोपियों जो खुलासा किया है वह चौंकाने वाला है। अनिमेष की हत्या प्रेम प्रसंग के चलते की गई है। पुलिस ने हत्या के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए जुलूस निकाला है। आरोपियों ने चाकू और बोतल से गला रेत कर युवक के मौत के घाट उतार दिया था।

साबूत मिटाना चाहते थे आरोपी
पुलिस से ज्यादा दिन नहीं बच सके। महज 5 दिन में ही पुलिस ने अनिमेष उर्फ शुभम भार्गव की हत्या के आरोपी विवेक नायक और भानु पांडे को गिरफ्तार कर लिया है। शनिवार को पुलिस ने दोनों आरोपियों का बाजार में जुलूस निकाला। एएसपी सुरेंद्र कुमार जैन ने बताया कि विवेक और भानु ने शुभम की हत्या के बाद वे उसका शव छिपाकर सबूत मिटाना चाहते थे, लेकिन रात अधिक हो जाने और डर के कारण वे भाग निकले।

टीम बनाकर किया आरोपियों को गिरफ्तार
दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए एसपी कुमार प्रतीक के निर्देश एवं एएसपी सुरेन्द्र कुमार जैन,एसडीओपी सुरेश सेजबाल के मार्गदर्शन में टीआई नवल आर्य,एसआई रंजीत सिंह, बरिष्ट आरक्षक कैलाश विश्वकर्मा,आरक्षक मुकेश उपाध्याय, आरक्षक अवनीश यादव,सलमान,नीलेश चौधरी,अनूप मिश्रा की टीम गठित की गई। पुलिस ने आरोपी विवेक नायक पुत्र शंकर लाल नायक उम्र 25 साल निवासी नायकों का मोहल्ला ,भानूप्रताप पांडे पुत्र स्व.राकेश कुमार पांडे उम्र 27 साल निवासी नूतन बिहार कालोनी ढोंगा को ललितपुर से झांसी जानेवाले राष्ट्रीय राजमार्ग बबीना आम रास्ते से 28 दिसम्बर को गिरफ्तार कर लिया गया।

नहीं माना शुभम तो उतारा मौत के घाट
एएसपी सुरेन्द्र कुमार जैन ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ के दौरान सामने आया कि विवेक नायक का जिस लड़की से प्रेम प्रसंग चलता था, उससे अनिमेष उर्फ शुभम भार्गव का भी प्रेम प्रसंग चल रहा था। विवेक ने शुभम को इस बारे में चेताया था और ऐसा करने से मना किया था। शुभम इसके लिए राजी नहीं था, इसी के चलते विवेक ने अपने दोस्त भानुप्रताप पांडे के साथ योजना बनाई और उसे भानु के घर बुलाकर उसकी हत्या कर दी। घटना के बाद आरोपी शव को ठिकाने लगाने के प्रयास करने लगे, लेकिन रात अधिक होने के कारण वह मौके पर ही शव छोड़कर भाग निकले।

चाकू और बोतल से रेत दिया था गला
एएसपी ने बताया कि हत्याकांड के दौरान आरोपियों ने जिन हथियारों का उपयोग किया उनमें एक लोहे का पाईप,चाकू और शराब की बोतल शामिल है। बताया गया है कि आरोपियों ने पहले शुभम के सर पर पाईप से हमला किया,फिर चाकू से गले पर प्रहार किया,इतना ही नहीं शराब की बोतल फोड़ कर भी उसके गले पर वार किया गया। पुलिस ने मौके से हत्या में प्रयोग चीजों को जब्त कर लैब भेजा।

आरोपियों का निकाला जुलूस
आरोपियों के हाथ में हथकड़ी डाल पुलिस जब पैदल नगर के प्रमुख रास्तों से निकली तो आम लोगों में खलबली मच गई। हर कोई जानने के प्रयास में था कि आखिर यह अपराधी कौन है, लेकिन जब लोगों को इस बात की जानकारी हुई तो सभी हतप्रभ नजर आए। थाना प्रभारी नवल आर्य ने बताया कि उक्त दोनों आरोपियों ने जिस प्रकार का कृत्य किया है, उसकी सजा उन्हें मिलेगी, लेकिन अन्य लोगों में सकारात्मक मैसेज देने और अपराध से लोग दूर रहें उसके लिए ऐसे प्रयास करना आवश्यक हैं।

खबरें और भी हैं...