comScore

प्रदेश में सबसे पहले छतरपुर में बोर्ड परीक्षा कॉपियों के मूल्यांकन का काम पूरा

प्रदेश में सबसे पहले छतरपुर में बोर्ड परीक्षा कॉपियों के मूल्यांकन का काम पूरा

डिजिटल डेस्क छतरपुर । शहर के एक्सीलेंस एवं नम्बर-2 स्कूल में चल रहा माशिमं की बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य सोमवार को पूरा हो जाएगा। जिले में दो चरणों में लगभग 2.17 लाख कॉपियां चैक होने के लिए आई थीं। इनमें से केवल 3530 कॉपियों का मूल्यांकन ही शेष बचा है, जो सोमवार को पूरा हो जाएगा। इसके साथ ही बोर्ड की अब तक हुई परीक्षा का मूल्यांकन कार्य प्रदेश में सबसे पहले छतरपुर में पूर्ण हो जाएगा। कोरोना से बनी विपरीत परिस्थितियों में शिक्षकों ने काफी मेहनत के साथ इस कार्य को रिकॉर्ड समय में पूरा किया, जिसके लिए उन्हेें कलेक्टर शीलेंद्र सिंह के द्वारा प्रशस्ति पत्र भी दिए जाएंगे। 
23 अप्रैल को शुरू हुआ था मूल्यांकन का काम
माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा जारी गाइड लाइन के अनुसार नोवेल कोरोना वाइरस-19 के संक्रमण से बचाव के सभी उपायों का पूर्णत: पालन करते हुए प्रथम चरण का मूल्यांकन कार्य 23 अप्रैल से प्रारंभ हुआ। यह कार्य 18 मई तक पूर्ण होना था, जिसे समय से पहले 11 मई को पूरा करा लिया गया। प्रथम चरण के लिए एक लाख 90 हजार उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त हुई थीं। द्वितीय चरण के मूल्यांकन के लिए 27160 उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त हुईं। इनके चैक करने के लिए 7 से 30 मई तक का समय दिया गया। यह कार्य मात्र 12 दिनों में संपन्न कराया गया है। यह कार्य सोमवार को 5 बजे तक अनिवार्यत: पूरा हो जाएगा।
शिक्षकों को मिलेंगे प्रशस्ति-पत्र
जिला शिक्षा अधिकारी एसके शर्मा ने बताया कि विषम परिस्थितियों में मध्य शिक्षकों द्वारा जिस समर्पण भाव से इस कार्य को समय से पहले पूरा किया गया, उन सभी को कलेक्टर की ओर से प्रशस्ति-पत्र दिलाए जाएंगे। गौरतलब है कि एक दिन में केंद्र पर 500 से अधिक मूल्यांकनकर्ताओं की उपस्थित कभी नहीं देखी गई है। 
विवाद भी हुआ 
गौरतलब है कि मूल्यांकन के दौरान कुछेक शिक्षकों ने सेंटर बेस्ड मूल्यांकन को लेकर विरोध भी जताया। इसके बाद एक शिक्षक ने खुद को कोरोना से मिलते-जुलते लक्षण होने के बीच मूल्यांकन कराए जाने के आरोप लगाए, लेकिन इस शिक्षक की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद शिक्षक दोगुने जोश के साथ मूल्यांकन के काम में जुट गए, और इस कार्य को रिकॉर्ड समय में पूरा कर लिया।  
ई-पेमेंट से होगा भुगतान
मूल्यांकन केंद्र प्रभारी अशोक खरे का कहना है कि 17 मई तक 213655 उत्तर पुस्तिकाएं मूल्यांकित की जा चुकी हैं। केंद्र पर शेष बची 3530 उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन आज सोमवार को शाम 5 बजे तक समाप्त कर लिया जाएगा। खरे ने बताया कि हमारे जिले ने मूल्यांकन कार्य समय से पहले पूरा कर प्रदेश में पहला स्थान हासिल किया है। मूल्यांकित कॉपियों का पारिश्रमिक 27.11 लाख रुपए का भुगतान मूल्यांकनकर्ताओं केे बैंक खातों में ई-पेमेंट के माध्यम से शीघ्र किया जाएगा। गौरतलब है कि मूल्यांकन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग एवं सेनेटाइजेशन के लिए विशेष इंतजाम किए गए। मूल्यांकन कार्य शुरू होने से पहले दोनों संस्थाओं के उपयोग में लिए गए प्रत्येक कक्ष तथा बरामदे को सुबह 7 बजे नपा ने सेनेटाइज किया। सीएमएचओ द्वारा भेजी गईं टीमों द्वारा प्रत्येक परीक्षक की थर्मल स्क्रीनिंग की जा चुकी है। नए आने वाले प्रत्येक परीक्षक की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। सभी परीक्षकों तथा मूल्यांकन कार्य में संलग्न प्रत्येक कर्मचारी को नए मास्क भी बांटे गए।
फैक्ट फाइल
>कक्षा 10वीं की उत्तर पुस्तिकाएं-152382
>कक्षा 12वीं की उत्तर पुस्तिकाएं-64803
>कॉपी चैक करने की दर कक्षा 10वीं-12 रुपए
>कॉपी चैक करने की दर कक्षा 12वीं-13 रुपए
>मूल्यांकनकर्ता कक्षा 10वीं के लिए-439
>मूल्यांकनकर्ता कक्षा 12वीं के लिए-395
 

कमेंट करें
PT1hJ