comScore

 व्यवहार न्यायालय में पदस्थ स्टाफ सहित अधिवक्ता का परिवार होम क्वारेंटाइन -कोरोना संक्रमण

 व्यवहार न्यायालय में पदस्थ स्टाफ सहित अधिवक्ता का परिवार होम क्वारेंटाइन -कोरोना संक्रमण

जिला एवं सत्र न्यायाधीश का आदेश, हरकत में आया स्वास्थ्य विभाग 
डिजिटल डेस्क सिवनी ।
जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ. एसके मिश्र ने आदेश जारी करते हुए  व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 स्नेहा सिंह  के न्यायालय में पदस्थ समस्त स्टाफ को होम क्वारेंटाइन करने का आदेश दिया है। द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 स्नेहा सिंह द्वारा उन्हें जानकारी दिए जाने के बाद उक्त आदेश जारी किया गया है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश को जानकारी दी गई थी कि न्यायालय के प्रस्तुतकार नवीन पाण्डे का साला काली चौक क्षेत्र निवासी अधिवक्ता आशीष पाठक अपने बीमार रिश्तेदार को देखने छिंदवाड़ा गया था। हालत खराब होने पर बीमार रिश्तेदार को नागपुर ले जाया गया जहां कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। 
अधिवक्ता के घर पहुंची टीम 
जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वारा द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 के न्यायालय में पदस्थ समस्त स्टाफ को होम क्वारेंटाइन करने का आदेश जारी किए जाने की जानकारी सामने आते ही मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया। जिले के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी केसी मेश्राम के निर्देश पर टीम काली चौक क्षेत्र स्थित अधिवक्ता आशीष पाठक के घर पहुंच गई। घर में मौजूद आधा दर्जन से अधिक सदस्यों की स्क्रीनिंग व स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। आगामी 14 दिनों तक घर पर ही रहने की हिदायत दी गई है। बताया गया कि अधिवक्ता आशीष पाठक के सेंपल भी जांच के लिए भेजने का फैसला किया गया है। घर के बाहर जानकारी उल्लेखित की गई है।
ये जारी किया आदेश 
द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 स्नेहा सिंह द्वारा जिला एवं सत्र न्यायाधीश डॉ. एसके मिश्र को अवगत कराया गया कि उनके न्यायालय के प्रस्तुतकार नवीन पाण्डे का साला अधिवक्ता आशीष पाठक 5-6 दिन पूर्व अपने नजदीकी रिश्तेदार के अस्वस्थ होने से उन्हें देखने छिंदवाड़ा गया था। उक्त रिश्तेदार का स्वास्थ्य ज्यादा खराब होने पर उन्हें नागपुर ईलाज हेतु ले जाने पर उनकी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजीटिव पाई गई तथा वे वर्तमान में नागपुर में उपचाररत् हैं। नवीन पाण्डे की पत्नी एवं बच्चे वर्तमान में उनकी ससुराल सिवनी में होने से वे आशीष पाठक के संपर्क में रहे तथा प्रतिदिन की भांति 8 जून को भी अपने कर्तव्य पर न्यायालय में उपस्थित हुए। अत: कोविड-19 के संक्रमण से सुरक्षा हेतु प्रस्तुतकार नवीन पाण्डे एवं उनके संपर्क में आने के कारण उक्त न्यायालय में पदस्थ समस्त स्टाफ को आगामी आदेश तक गृह निवास से ही कर्तव्य पर उपस्थिति सुनिश्चित करते हुए होम क्वारेंटाइन में रहने हेतु आदेशित किया जाता है। 
इनका कहना है-
जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वारा जारी किए गए आदेश की जानकारी मिलने के बाद टीम भेजी गई। अधिवक्ता के घर पर मौजूद सभी परिजनों को होम क्वारेंटाइन किया गया है। अधिवक्ता के सेंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे।
- केसी मेश्राम, सीएमएचओ
 

कमेंट करें
CzAdQ