comScore

 किसान के बेटे ने तैयार की एयर पॉल्यूशन कंट्रोल मशीन, पीएमओ को भेजा पत्र

 किसान के बेटे ने तैयार की एयर पॉल्यूशन कंट्रोल मशीन, पीएमओ को भेजा पत्र

डिजिटल डेस्क कटनी । दृढ़ इच्छा शक्ति और कुछ कर दिखाने का जुनून दिल में हो तो कोई भी कार्य नामुकिन नहीं है। सफलता लगन और मेहनत के बल पर आगे बढऩे वालों के कदम चूमती है। इस बात को चरितार्थ करके दिखाया है जिले के बड़वारा ब्लॉक ग्राम मझगवां निवासी किसान रामकुमार कुशवाहा के बेटे सुनील कुशवाहा ने। सुनील ने ऐसी मशीन तैयार की है जो प्रदूषण को नियंत्रित करने में सहायक साबित होगी।
मशीन बनाने में लगे तीन साल
सुनील ने बताया कि टे्रन के इंजन के धुआं से होने वालेप्रदूषण को रोकने का तरीका ईजाद करने का विचार उनके मन में आया। इस पर अध्ययन करने के बाद एयर पॉल्यूशन कंट्रोल मशीन तैयार की। इसके लिए उसे तीन साल तक कड़ी मेहनत करनी पड़ी। खास तरीके के फिल्टरों का उपयोग करके मशीन 15 दिसंबर 2019 को बनकर तैयार हुई।
तीन लाख की लागत
मुंबई में प्राईवेट संस्था में काम करके सुनील ने रुपए जुटाए और अपने पिता से भी मदद लेकर तीन लाख की लागत से मशीन तैयार की। इस मशीन का नाम स्कॉय ओजोन लेयर 0.50 स्मोक क्लीन एयर प्यूरीफॉयर दिया गया है। मशीन में ऑनलाइन नेटवर्किंग मशीन भी लगाई गई है जिसे आसानी से मोबाइल से ऑपरेट किया जा सकता है। मशीन के काम करने, बिगडऩे की जानकारी भी मोबाइल में मैसेज के माध्यम से मिलती है। सुनील का दावा है कि यह मशीन दो लाख 20 हजार स्क्वॉयर फीट के प्रदूषण का सफाया कर देगी।
पढ़ाई के साथ-साथ तैयार की मशीन
युवक ने कक्षा एक से 8 तक मझगवां में अध्ययन करने के बाद हाई स्कूल की पढ़ाई 24 किलोमीटर प्रतिदिन साइकिल से कटनी आकर किया। इसके बाद जबलपुर में से बी. टेक किया। बीई मैकेनिकल में पढ़ाई करने के साथ ही सुनील ने यह एयर पॉल्यूशन कंट्रोल मशीन बनाई।
बिजली और सौर्य ऊर्जा से करती है काम
सुनील ने बताया कि मशीन में 9 प्रकार के फिल्टर लगाए गए हैं। यह धुएं के एक-एक स्टेप को खत्म करके साफ  हवा देते हैं। इसमें चिमनी लगी है जो धुआं खीचती है। एफ-1 से लेकर एफ -9 तक नौ फिल्टर के अलावा इसमें एक वॉयलर लगा हुआ है जो हवा को फिल्टर करने में मदद करता है। कूलिंग टॉवर भी मशीन में लगा है जो गर्म हवा को ठंडी करता है। एक पाइप है जो वायुमंडल में शुद्ध हवा फेकता है। यह मशीन बिजली और सौर ऊर्जा दोनों से चलती है।
पीएम कार्यालय भेजा पत्र
युवक का कहना था कि मशीन बनाकर तैयार है और प्रधानमंत्री कार्यालय में मशीन की उपयोगिता के लिए पत्र लिखा है। इसके लिए कलेक्टर शशिभूषण सिंह से भी संपर्क किया है लेकिन लॉक डाउन के कारण इस मशीन के कार्य करने की क्षमता और उसकी उपयोगिता का निरीक्षण रुका हुआ है।
इनका कहना है
  मझगवां निवासी युवक ने एयर पॉल्यूशन कंट्रोल मशीन तैयार की है, इसकी जानकारी लगी है। उसने हमसे संपर्क भी किया था, लेकिन कोरोना संकट के कारण अभी टीम नहीं भेज सके है। स्थितियां सामान्य होते ही मशीन का निरीक्षण किया जाएगा। इसके बाद जो भी संभव होगा, आगे की कार्रवाई की जाएगी।
-शशि भूषण सिंह, कलेक्टर

कमेंट करें
3JFlj