comScore

नागरिकों के प्रति संवेदना रखेंगे तो वे मित्र बनेंगे और अपराधी खौफ खाएँगे

नागरिकों के प्रति संवेदना रखेंगे तो वे मित्र बनेंगे और अपराधी खौफ खाएँगे

डीजीपी ने समीक्षा बैठक में दी सीख, पुलिस अधीक्षकों से कहा अपराधों पर अंकुश लगाने हर संभव प्रयास करें
डिजिटल डेस्क जबलपुर । 
आम जनता को न्याय िदलाने, जो भी संभव हो करें। हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, चोरी, डकैती जैसे अपराध तो दूर की बात अपराधियों में पुलिस का इतना खौफ हो कि वह मारपीट जैसी सामान्य घटनाओं को भी करने से बचें। ध्यान रहे कि यह खौफ सिर्फ अपराधियों तक सीमित रहे, जनता तक न पहुँचे। आमजन को मित्र बनाएँ ताकि अपराधियों तक पहुँचने में आसानी हो। खासकर पुलिस महिलाओं, बच्चों, वृद्धों एवं समाज के कमजोर वर्गों के प्रति संवेदनशील बने। उक्त सीख डीजीपी विवेक जौहरी ने शुक्रवार को कंट्रोलरूम में जबलपुर जोन की अपराध समीक्षा बैठक में जोन के अंतर्गत सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को दी। पुलिस महानिदेशक ने मारपीट, प्रतिबंधात्मक कार्यवाही, लघु अधिनियम, महिला सम्बंधी अपराध एवं एससी/एसटी के अपराधों की त्रिवर्षीय तुलनात्मक समीक्षा की। इसके साथ ही चिन्हित जघन्य एवं सनसनीखेज अपराधों की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली एवं आदेशित किया कि अवैध शराब एवं अवैध हथियार के कारोबार में लिप्त आरोपियों को चिन्हित करते हुए उनके विरुद्ध प्रभावी कार्यवाही की जाए। बैठक में आईजी भगवत सिंह चौहान, डीआईजी छिंदवाड़ा रेंज अनिल महेश्वरी, एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एसपी कटनी ललित शाक्यवार, एसपी सिवनी कुमार प्रतीक, एसपी छिंदवाड़ा विवेक अग्रवाल, एसपी नरसिंहपुर अजय सिंह सहित जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारी उपस्थित थे। 
 

कमेंट करें
X82NT