लोकायुक्त की कार्रवाई: रिश्वते लेते एएसआई गिरफ्तार

lokayukta caught SI for taking brive
लोकायुक्त की कार्रवाई: रिश्वते लेते एएसआई गिरफ्तार
लोकायुक्त की कार्रवाई: रिश्वते लेते एएसआई गिरफ्तार

डिजिटल डेस्क, टीकमगढ़। लोकायुक्त की टीम ने देरी चौकी प्रभारी एएसआई आरके रिछारिया को चालान पेश करने की एवज में मांगी गई राशि 2000 की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोचा है। उक्त कार्रवाई के पश्चात जिले भर में रिश्वत लेने वाले अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

 लोकायुक्त टीम निरीक्षक हीरालाल चौहान ने बताया कि देरी निवासी नरेन्द्र सिंह परमार उम्र 23 वर्ष के द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी कि उनका कोई मामला थाने में दर्ज है। देरी चौकी प्रभारी एएसआई आरके रिछारिया के द्वारा चालान पेश करने की एवज में उनसे 6000 रूपए की मांग की गई है। घटना दिनांक 26 अगस्त को ही शिकायतकर्ता के द्वारा 2000 रूपये चौकी प्रभारी को दे दिए गए थे और वाकी रूपयों का इंतजाम करने के लिए समय मांगा था। चौकी प्रभारी के द्वारा 14 सितम्बर 2017 एक युवक को शिकायतकर्ता के घर भेजा गया। इस दौरान शिकायतकर्ता सागर गया हुआ था। जब नरेन्द्र अपने घर लौटा तो उसे जानकारी प्राप्त हुई कि उसे थाने में शेष राशि लेकर बुलाया गया है। राशि न लेकर आने पर उसे बंद करने की धमकी दी गई थी।

15 सितंबर को लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वतखोर एएसआई को रंगे हांथों पकडने की योजना तैयार कि और फिर जैसे ही नरेन्द्र सिंह परमार ने 2000 रूपये चौकी प्रभारी आरके रिछारिया को दिए। तत्काल छापामार कार्रवाई को अंजाम देते हुए लोकायुक्त टीम ने उसे रंगे हांथों धर दबोचा। लोकायुक्त की कार्रवाई की खबर समूचे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। रिश्वत लेते पकड़े गए एएसआई पर लोकायुक्त पुलिस ने धारा 07,13(2)डी,13(2) पीसी एक्ट के तहत कार्रवाई की है। आरोपी को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया है। कार्रवाई करने वाली टीम में लोकायुक्त निरीक्षक हीरालाल चौहान, प्रधान आरक्षक राजकुमार सेन, आरक्षक नीलेश पांडेय, संतोष गोस्वामी,यशवंत सिंह के नाम शामिल है।                        

Created On :   16 Sep 2017 4:31 AM GMT

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story