दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र में 29 हवाई अड्डे पर 9 से ही उड़ रहे विमान

February 26th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य में हवाई यातायात को बढ़ावा देने के लिए फिलहाल 29 एयरपोर्ट तैयार है पर इनमें से सिर्फ नौ एयरपोर्ट से ही नियमित विमान सेवाएं उपलब्ध हैं। इस साल विदर्भ के अमरावती, अकोला व कोकण का सिंधुदुर्ग एयरपोर्ट बन कर तैयार हो जाएगा। फिलहाल अमरावती एयरपोर्ट के विस्तारीकरण का कार्य चल रहा है। इस साल जुलाई तक यह काम पूरा होने की उम्मीद है। महाराष्ट विमानतल विकास कंपनी (एमएडीसी) के प्रबंध निदेशक अनिल पाटिल ने ‘दैनिक भास्कर’ को बताया कि फिलहाल अमरावती एयरपोर्ट के रनवे के विस्तारीकरण का कार्य चल रहा है। 1800 मीटर लंबे रनवे को बढ़ा कर 2300 मीटर किया जाना है। यहां नई टर्मिनल इमारत बनाने के लिए टेंडर जारी किया गया है। अमरावती एयरपोर्ट का काम जुलाई तक पूरा हो जाएगा। उन्होंने बताया कि चंद्रपुर के मोरबा में स्थिति एयरपोर्ट का विस्तारीकरण नहीं हो सकता। इस लिए चंद्रपुर के राजुरा में नया एयरपोर्ट बनाने के लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य जारी है।  

29 में नौ से ही उड़ान 

राज्य में इस समय कुल 29 एयरपोर्ट है जिसमे से सिर्फ 9 एयरपोर्ट मुंबई, पुणे, नागपुर, शिर्डी, नाशिक, औरंगाबाद, जलगांव, नांदेड़ व कोल्हापुर एयरपोर्ट से नियमित विमान सेवाये शुरू हैं। जबकि अकोला एयरपोर्ट अभी छोटे एयरक्राफ्ट के लिए ही तैयार है। इसके रनवे को विस्तार दिया है रहा। जिसके बाद यहां बड़े विमान भी उतर सकेंगे। 

मुंबई एयरपोर्ट की व्यस्तता बड़ी समस्या

महाराष्ट्र में पर्याप्त एयरपोर्ट होने के बावजूद राजधानी मुंबई स्थित घरेलू हवाई अड्‌डे की अति व्यस्तता के चलते राज्य में एयर कनेक्टिविटी नहीं बढ़ पा रही है। एमएडीसी के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य के छोटे शहरों के एयरपोर्ट से विमान सेवा शुरू करने वाली एयर लाइंस कंपनियां मुंबई से ही सेवा चाहती हैं। क्योंकि राज्य के छोटे शहरों से मुंबई के लिए ही  विमान सेवा की सबसे ज्यादा मांग रहती है। लेकिन मुंबई एयरपोर्ट की अति व्यस्तता के चलते छोटे शहरों के लिए विमान सेवा को जगह नहीं मिल पा रही है। उन्होंने कहा कि नई मुंबई एयरपोर्ट शुरू हुए बगैर यह स्थिति नहीं बदलने वाली। 

मई से शिर्डी में नाईट लैंडिंग

एमएडीसी द्वारा संचालित शिर्डी एयरपोर्ट को काफी अच्छा प्रतिसाद मिला है। फिलहाल यहां रात में विमान उतारने की सुविधा नहीं है। इसके बावजूद अभी यहां प्रतिदिन 28 विमान उतर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि आगामी मई महीने तक शिर्डी एयरपोर्ट पर नाईट लैंडिंग की सुविधा हो जाएगी, उसके बाद यहां प्रतिदिन 50 विमानों के आने-जाने की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...